Sunday, August 09, 2020 05:09 AM

खिड़की से न फेंके कूड़ा… थैले में डालें

घुमारवीं मंे नीट एंड क्लीन बनाने के लिए नगर परिषद ने बनाया प्लान; बसों में रखे जाएंगे बैग, लोगों से की अपील

घुमारवीं-घुमारवीं को नीट एंड क्लीन तथा अधिक सुंदर रखने को निगम व निजी बसों में खाली बैग रखे जाएंगे। इससे बसों में सफर करने वाले लोग खाली रैपरों तथा यूज करने के बाद प्लास्टिक बोतलों को इधर-उधर न फेंके। यात्री इन खाली रैपरों व बोतलों को बसों में रखे जाने वाले थैलों में डालें। इससे बसों की खिड़कियों से बाहर सड़कों पर फेंके जाने वाले कूड़ा-कर्कट इधर-उधर नहीं बिखरेगा तथा घुमारवीं अधिक स्वच्छ व सुंदर बनेगा। इसके लिए घुमारवीं प्रशासन ने प्लान तैयार किया है। प्लान सिरे चढ़ाने के लिए प्रशासन शीघ्र ही हिमाचल पथ परिवहन निगम, निजी बस आपरेटरों, नगर परिषद तथा विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक करेगा। बैठक में इस प्लान को अमलीजामा पहनाने की रूपरेखा तैयार की जाएगी। प्रशासन के तैयार प्लान के मुताबिक घुमारवीं से चलने वाली हिमाचल पथ परिवहन निगम तथा निजी बसों में थैले रखे जाएंगे। इनमें बसों में सफर कर रहे यात्री खाली रैपरों तथा प्लास्टिक की बोतलों को इधर-उधर फेंकने की बजाय इन थैलों में डाल दें। कूड़ा-कर्कट से भरा थैला नगर परिषद के तय किए गए कूड़ा एकत्रित कलेक्शन प्वांइट पर देना होगा। जहां पर नगर परिषद कर्मी इन थैलों को खाली करके वापस बसों में रख देंगे। इसके बाद नगर परिषद के कर्मी थैले में रखे इस एकत्रित कूड़े-कर्कट को ठिकाने लगाएंगे। प्रशासन इस प्लान को अमलीजामा पहनाने को जुट गया है। प्रशासन का प्लान यदि सिरे चढ़ गया, तो घुमारवीं में कूड़ा भी इधर-उधर नहीं बिखरेगा तथा घुमारवीं पहले से अधिक स्वच्छ व सुंदर दिखेगी।  जानकारी के मुताबिक घुमारवीं में प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में बसों की आवाजाही रहती है। काफी संख्या में लोग बसों में सफर करते हैं। बसों में सफर करने वाले बच्चे तथा यात्री चिप्स, कुरकुरे, बिस्कुट, ठंडा तथा पानी की बोतलों का इस्तेमाल करते हैं। बसों में इन रैपरों तथा प्लास्टिक की बोतलों को ठिकाने लगाने के लिए कोई स्थान चिन्हित नहीं होता है। इसके कारण बसों में सफर कर रहे बच्चे तथा लोग इस कूड़े-कचरे को बसों की खिड़कियां खोलकर बाहर फेंक देते हैं। इससे यह कूड़ा-कचरा उड़कर बाहर सड़कों में बिखर जाता है। इससे घुमारवीं की सड़कों तथा बस स्टैंड पर गंदगी पसर जाती है। जगह-जगह नमकीन, चिप्स व बिस्कुट के रैपरों सहित प्लास्टिक की बोतलें पड़ी होती है। इन रैपरों तथा प्लास्टिक की बोतलों को ठिकाने लगाने के लिए घुमारवीं प्रशासन ने प्लान तैयार किया है। वहीं एसडीएम घुमारवीं शशिपाल शर्मा ने कहा कि बसों में बैग रखे जाएंगे। इससे बसों में सफर करने वाले लोग नमकीन, बिस्कुट सहित अन्य के खाली रैपर तथा यूज की गई प्लास्टिक की बोतलों को इन थैलों में डाल देंगे। इससे बसों की खिड़कियों से फैंका जाना वाला कूड़ा इधर-उधर नहीं बिखरेगा। इससे घुमारवीं पहले से अधिक नीट एंड क्लीन एवं स्वच्छ रहेगा।