खिलाड़ियों को विदेशी लीग में खेलने की इजाजत दे बीसीसीआई : उथप्पा

दिल्ली, 22 मई बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा का कहना है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को भारतीय खिलाड़ियों को विदेशी टी-20 लीग में खेलने की इजाजत देनी चाहिए। बीसीसीआई के नियमानुसार किसी भारतीय खिलाड़ी को विदेशी लीग में खेलने की इजाजत नहीं है। इससे पहले ऑलराउंडर सुरेश रैना और इरफ़ान पठान ने भी कहा था कि गैर अनुबंधित खिलाड़ियों को विदेशी टी-20 टूर्नामेंट में खेलने की इजाजत मिलनी चाहिए। उथप्पा ने बीबीसी से कहा, “हमें विदेशी लीग में खेलने की इजाजत मिलनी चाहिए। हमें बुरा लगता है जब हमें विदेशी लीग में खेलने जाने नहीं दिया जाता। अगर हमें कुछ लीग में खेलने दिया जाए तो यह खिलाड़ियों के लिए अच्छा होगा क्योंकि एक खिलाड़ी के लिए खेल के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानना बहुत जरुरी है।” स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर जैसी भारतीय महिला क्रिकेटर ऑस्ट्रेलिया की महिला बिग बैश लीग तथा इंग्लैंड की सुपर लीग में खेलती हैं लेकिन पुरुष क्रिकेटरों की इसकी इजाजत नहीं है। 2017 में ऐसी खबर आयी थी कि यूसुफ पठान को हांगकांग ब्लिटज टूर्नामेंट में खेलने की इजाजत दी गयी है लेकिन बाद में इसका खंडन किया गया था। उथप्पा को हालांकि बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरभ गांगुली से बहुत उम्मीदें हैं औऱ उनका मानना है कि वह इस बारे में खिलाड़ियों के हित में फैसला लेंगे। उथप्पा ने कहा, “गांगुली आगे की सोच रखने वाले व्यक्ति हैं और वह भारत क्रिकेट को अगले स्तर पर ले जाने वाले व्यक्ति हैं। मुझे उम्मीद है कि वह इस बारे में फैसला लेंगे।”इससे पहले रैना और इरफ़ान ने भी कहा था कि जो खिलाड़ी राष्ट्रीय अनुबंध में शामिल नहीं हैं उन्हें विदेशी टी-20 लीग में खेलने की अनुमति दी जानी चाहिए।

Related Stories: