Friday, September 20, 2019 12:56 AM

खौफनाक खलबली

अलग हुआ चंबा, पठानकोट एनएच बंद

चंबा - चंबा जिला में जारी बारिश के दौर के चलते जगह- जगह भू-स्खलन होने से पठानकोट एनएच पर यातायात ठप होकर रह गया। पठानकोट एनएच बंद होने से चंबा जिला का संपर्क शेष विश्व से पूरी तरह कटकर रह गया है। जिला के विभिन्न उपमंडलों के मुख्य सहित संपर्क मार्गों पर भी भू-स्खलन व पत्थर गिरने से वाहनों के पहिए थमकर रह गए हैं। बारिश के चलते शनिवार को पठानकोट एनएच के अलावा जिला के करीब 115 संपर्क मार्ग बंद रहे। बारिश के कारण लोक निर्माण विभाग को साढे़ सात करोड़ और एनएच प्रबंधन को एक करोड़ का नुकसान उठाना पड़ा है। बारिश के कारण सर्वाधिक नुकसान भटियात उपमंडल में हुआ है। मौसम के बिगडे़ मिजाज के मद्देनजर जिला प्रशासन ने लोगों से खराब मौसम के बीच घर से बाहर न निकलने को कहा है। जिला के 115 मुख्य व संपर्क मार्गों पर वाहनों के पहिए भी थमकर रह गए हैं। जिला के विभिन्न मार्गों पर करीब 60 से अधिक सरकारी व निजी बसें भी बीच राह में फंसकर रह गई हैं। पठानकोट एनएच मार्ग पर परिहार के पास पहाड़ी के लगातार दरकने से यातायात बहाली चुनौती बनी हुई है। शनिवार को पठानकोट एनएच पर परेल, चेहली व देवीदेहरा में भी भू-स्खलन हुआ। बारिश के चलते शनिवार को चंबा-तीसा, चंबा-सलूणी, चंबा-भरमौर मुख्य मार्ग सहित कई संपर्क मार्ग बंद रहे।

चक्की-कलम खड्डों ने मचाई तबाही

बारिश के बीच मलबा व पत्थर गिरने का सिलसिला लगातार जारी रहने से आवाजाही काफी रिस्की होकर रह गई है। हालांकि देर शाम तक लोक निर्माण विभाग ने कई संपर्क मार्गों को यातायात के लिए खोल दिया था, लेकिन बारिश का दौर रहने से बीच-बीच में मार्ग बंद होने से यातायात सुचारू नहीं हो पा रहा था। बारिश के कारण भटियात उपमंडल की कलम व चक्की खड्डों ने रौद्र रूप धारण कर लिया है। चक्की खड्ड के तेज बहाव की चपेट में आकर प्रोजेक्ट की करोड़ों रुपए की मशीनरी बह गई है।

गोशाला ढही, 15 भेड़-बकरियां दबीं

जिला चंबा के अंतर्गत सपरोट पंचायत में गोशाला ढहने से पंद्रह भेड़-बकरियों की मौत हो गई। तुरकड़ा पंचायत में स्कूल की बाउंड्री वॉल ढह गई। इसके अलावा गोधरा में प्राथमिक स्कूल के दो कमरे बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए। कूंर गांव में भू-स्खलन का दौर आरंभ होने से रिहायशी बस्ती को खतरा पैदा हो गया है। भटियात के लाहडू में वन विभाग की नर्सरी बहने से करीब पांच लाख का नुकसान हुआ है। बहरहाल, समाचार लिखे जाने तक चंबा जिला में बारिश का दौर लगातार जारी था।