Friday, December 13, 2019 07:14 PM

गंगथ से बुलाया बुजुर्ग का बेटा

राजा का तालाब के पार्क में अकेली रह रही थी महिला, प्रशासन ने नारी सेवा सदन मशोबरा भेजने की शुरू की तैयारी

राजा का तालाब -राजा का तालाब में स्थित पार्क में कुछ दिनों से अकेली रह रही 85 वर्षीय बुजुर्ग महिला राज रानी विधवा पत्नी स्वरूप राज  को लेकर एसडीएम फतेहपुर बलवान सिंह मंडोत्रा ने बुधवार को उक्त जगह पर पहुंचकर महिला के बेटे शाम कृष्ण को गंगथ से बुलाया। बेटे शाम कृष्ण ने एसडीएम को बताया कि उसकी माता राज रानी उसके साथ रहना नहीं चाहती। जबकि उसका बड़े भाई राम की मृत्यु हो चुकी है। ऐसे में एसडीएम फतेहपुर बलवान सिंह मंडोत्रा ने शाम कृष्ण से उनकी बहनों के बारे में पूछा। शाम कृष्ण के अनुसार उसकी तीनों बहनें पंजाब में विवाहित हैं। एसडीएम ने इस बात को लेकर शाम कृष्ण से फोन नंबर लेकर बुजुर्ग महिला की पठानकोट में विवाहित बेटी पूनम को फोन मिलाया। परंतु उसका फोन नहीं लग पाया। जबकि बड़ी बेटी संतोष कुमारी को फोन मिलाकर जब एसडीएम ने उससे बात करनी चाही तो संतोष कुमारी ने बीच में फोन काट दिया। एसडीएम ने लोगों से जानकारी लेकर उसके लड़के से फोन पर बात की। ज्ञात रहे उक्त महिला राजा का तालाब स्थित पार्क में पिछले कुछ दिनों से बीमारी की हालत में रह रही है। बुजुर्ग महिला की स्थिति को देखते हुए लगता है कि सर्दियों में अगर उसे आश्रय न मिला तो कोई भी अनहोनी घटित हो सकती है। इसी बात को मद्देनजर रखते हुए बेटे शाम कृष्ण के सामने उपस्थित बुद्धिजीवियों ने एसडीएम फतेहपुर के समक्ष बुजुर्ग महिला को नारी सेवा सदन मशोबरा भेजने का आग्रह किया। इस दौरान बुजुर्ग महिला से भी सहमति ली गई। लोगों के आग्रह व बेटे व बुजुर्ग महिला की सहमति के उपरांत उसे मशोबरा स्थिति नारी सेवा सदन भेजने हेतु कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। इस मौके पर नेरना पंचायत प्रधान राजकुमार राजू, वार्ड सदस्य नरेश गुलेरिया, बुजुर्ग महिला का बेटा शाम कृष्ण व अन्य लोग उपस्थित रहे।