Wednesday, July 17, 2019 07:49 AM

गगरेट में टैंकों की सफाई का काम शुरू

गगरेट -लोगों को स्वच्छ पेयजल की सप्लाई करने के लिए सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग ने पेयजल भंडारण टैंकों की सफाई का काम शुरू कर दिया है। शिमला में गंदगी की चपेट में आए पेयजल स्रोत से फैले पीलिया रोग के बाद सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग द्वारा पेयजल भंडारण टैंकोंं की सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है, ताकि जल जनित रोगों की रोकथाम की जा सके। हालांकि पेयजल भंडारण टैंकों की सफाई का काम चला होने के चलते कई ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति बाधित भी हो सकती है। शिमला में पेयजल से पीलिया रोग फैलने के बाद प्रदेश उच्च न्यायालय द्वारा लगी कड़ी फटकार के बाद सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग एक-एक कदम फूंक-फूंक कर रख रहा है। अब सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य मंडल गगरेट के अंतर्गत आने वाली तमाम पेयजल योजनाओं के भंडारण टैंकों के रखरखाव पर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इसी के चलते ग्राम पंचायत अंबोटा में बने पेयजल भंडारण टैंकों की साफ-सफाई का कार्य शुरू किया गया है और सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी भंडारण टैंकों से गाद निकालने के काम में जुट गए हैं। सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग के सहायक अभियंता अश्विनी बंसल ने बताया कि जनता को स्वच्छ पेयजल मिले इसका विशेष ध्यान रखा जा रहा है और इसी के चलते पेयजल भंडारण टैंकोंं की साफ-सफाई के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि अंबोटा गांव में पेयजल भंडारण टैंकों की सफाई के चलते बुधवार को पेयजल आपूर्ति बाधित हो सकती है। पेयजल भंडारण टैंकों की साफ-सफाई के बाद इनकी क्लोरीनेशन भी की जाएगी।