Monday, November 18, 2019 04:00 AM

गगल में कूड़े ने पूछा सफाई का पता

गगल—पठानकोट-मंडी राष्ट्रीय राजमार्ग पर मांझी खड्ड पर बने पुल॒के पास से सराह को निकलने वाले संपर्क मार्ग में इतना कचरा फेंका जा रहा है कि सड़क पर चलना भी मुहाल हो गया है। बीमारी फैलने का खतरा बना हुआ है। ग्राम पंचायत सनोरा की प्रधान सुनिता देवी॒ने कहा कि बाजार से और यंहा के आसपास रहने वाले किराएदार दुकानदार भी यहां सड़क के किनारे कूड़ा फेंक रहे हैं। उन्होंने बताया कि कई बार उन्होंने लोगो को कूड़ा फेंकते हुए पकड़ा और चेतावनी देकर छोड़ा भी, लेकिन लोग है कि मानते नहीं। गगल बाजार से भी दुकानदार यहां पर कचरा फेंक रहे हैं कि सुबह सैर-सपाटे के दौरान तो कुछ गाडि़यों में से चलते-चलते कूड़ा कर्कट यहां फेंक रहे हैं। सनौरा के किसान देवराज साकड़ा, नवीन, सुभाष, वीर सिंह, पुरषोत्तम, रमेश चंद, भरत राज, तिलक, अजित, शशि, सुनिता, सीमा, स्वर्णा, प्रेमलता और पिंकी देवी ने बताया कि किसी समय यहां से गुजरने वाली कूहलें का पानी इतना साफ सुथरा होता था कि यहां से पीने और नहाने तक का पानी भरा जाता था, लेकिन अब आलम यह है कि यहां पर आसपास जब से किराएदारों की बढ़ोतरी हुई है, तब से यहां कूहलों के किनारे कूड़े के ढेर लगने शुरू हो गए। उन्होंने बताया कि सारा कूड़ा अब उनके खेतों में पहुंच रहा है। उधर, गगल के व्यवसायी कुलतार ठाकुर का कहना है कि कूड़ा- कर्कट आजकल बड़ी समस्या बन गई है। उन्होंने कहा कि हम सभी इस समस्या के लिए कहीं न कहीं जिम्मेदार॒है। उन्होंने कहा कि लोगो को चाहिए कि कूड़ा सड़क के किनारे न फेंके और कूड़े को घर के साथ खड्डा बना कर वहीं जला देना चाहिए। ऐसे में हमारे आसपास का वातावरण॒भी शुद्ध रहेगा और बीमारियां भी नहीं फैलेंगी।