Friday, October 18, 2019 12:36 PM

चंद्रताल झील को किया चकाचक

केलांग -प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर स्वच्छता ही सेवा अभियान की शुरुआत ऐतिहासिक झील चंद्रताल से की गई। कृषि मंत्री डा. राम लाल मार्कंडेय ने इस दौरान बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। यहां बतादें कि 15 सिंतबर तक चंद्रताल में पर्यटन सीजन जोरों पर चलता है। ऐसे में पर्यटकों की चहल कदमी चंद्रताल झील के आसपास अधिक होने से यहां गंदगी भी इस वर्ष काफी अधिक हो गई थी। ऐसे में खंड विकास कार्यालय व स्थानीय प्रशासन काजा ने सेव चंद्रताल सोसायटी के संयुक्त तत्त्वावधान से स्वच्छता ही सेवा अभियान की शुरुआत चंद्रताल झील से की। इस स्वच्छता अभियान में करीब 50 युवाओं ने हिस्सा लिया। झील के चारों ओर सफाई अभियान चलाया गया। इस दौरान कृषि मंत्री डा. राम लाल मार्कंडेय ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वच्छता को लेकर पिछले पांच सालों से व्यापक अभियान चला रहे हैं, जो कि दुनिया में काफी चर्चित हो गया है। स्वच्छ वातावरण ही स्वस्थ जीवन का आधार होता है। ऐसे में स्वच्छता को लेकर अब लोगों की मानसिकता में काफी बदलाव हुए हैं। आज देश में करोड़ों शौचालयों का निर्माण पिछले पांच सालों में किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि चंद्रताल में हर साल हजारों की तादाद में पर्यटक घूमने के लिए आते हैं, लेकिन पर्यटन सीजन के खत्म होने तक झील के आसपास काफी गंदगी फैल जाती है। स्थानीय प्रशासन ने जो इस स्थान पर स्वच्छता अभियान की शुरुआत की है, जो कि काबिले तारीफ  है। उन्होंने कहा कि सेव चंद्रताल सोसायटी भी पिछले कुछ सालों से बेहतर कार्य झील के संरक्षण को लेकर कर रही है। अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी ज्ञान सागर नेगी ने जानकारी देते हुए कहा कि दो अक्तूबर को स्वच्छता ही सेवा अभियान के तहत पंचायतों में कार्यक्रम किए जाएंगे। चंद्रताल झील से अभियान की शुरुआत करने के पीछे हमारा लक्ष्य था कि  ऐसे स्थान का चयन करे जोकि सबसे महत्त्वपूर्ण क्षेत्र में  हो। अभी हाल ही में यहां पर पर्यटन सीजन समाप्त हुआ है। ऐसे में इस स्थान को स्वच्छ बनाए रखना पर्यटकों को तो लुभाता ही है साथ ही साथ पर्यावरण के लिए भी काफी महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है।