Friday, December 13, 2019 07:06 PM

चट्टानी नमक न मिला तो करेंगे घेराव

जोगिंद्रनगर में किसान सभा ने डिपुओं में खेप न मिलने पर जताया आक्रोश, प्रदर्शन को चेताया

जोगिंद्रनगर -हिमाचल किसान सभा ने जोगिंद्रनगर में पशुओं के लिए जरूरी चट्टानी नमक की अनुपलब्धता पर कड़ा रोष प्रकट किया है। किसान सभा के राज्य उपाध्यक्ष एवं मंडी जिला अध्यक्ष कुशाल भारद्वाज, ब्लॉक कमेटी के अध्यक्ष रविंद्र कुमार, सचिव बुद्धि सिंह, उपाध्यक्ष सूबेदार टेक चंद ठाकुर, बीडीसी सदस्य व किसान सभा के वरिष्ठ नेता किशोरी लाल, रणा-रोपा जोन के अध्यक्ष सूबेदार नेतर सिंह, नौहली पंचायत के पूर्व प्रधान प्रीतम सिंह, किसान सभा की लडभड़ोल तहसील कमेटी के प्रधान एवं खद्दर ग्राम पंचायत के उपप्रधान टेक सिंह, सचिव प्रताप सिंह, उपाध्यक्ष जगदीश राणा, ऐहजू जोन के अध्यक्ष शेर सिंह, सचिव सुदर्शन वालिया, विनोद कुमार, कृष्णा देवी, मकरीड़ी जोन के अध्यक्ष बुद्धि सिंह, सचिव काली दास ठाकुर, उपाध्यक्ष रमेश चंद, बालम राम, बाग पंडोल जोन के अध्यक्ष प्रताप चंद, चौंतड़ा जोन के अध्यक्ष केहर सिंह, सचिव अनिल कुमार, दयावित चौहान, रीतू देवी, हीरामणी, रंगीलू राम, मच्छयाल जोन के अध्यक्ष भीम सिंह चौधरी, विनोद चौधरी, राकेश कुमार, इंद्रा देवी ने मांग की कि डिपो में मवेशियों के लिए उपयोगी और जरूरी चट्टानी नमक जल्द उपलब्ध किया जाए। किसान सभा के पदाधिकारियों की एक बैठक को संबोधित करते हुए कुशाल भारद्वाज ने कहा कि ऐसे समय में जबकि इस नमक की मवेशियों के लिए सख्त जरूरत होती है, लंबे समय से यह नमक जोगिंद्रनगर के डिपो में उपलब्ध ही नहीं है। उन्होंने कहा कि गुम्मा और द्रंग के नमक के नाम से मशहूर यह चट्टानी नमक बेहद स्वादिष्ट और निरोग होता है, अतः लोग भी इसका उपयोग करते हैं। उन्होंने कहा कि द्रंग खान में प्रचुर मात्रा में नमक है। एक समय द्रंग व गुम्मा नमक की मांग व धमक सब जगह थी, लेकिन सरकारी उपेक्षा के चलते गुम्मा की खान कई सालों से बंद पड़ी है और द्रंग में दो साल पहले ही फिर से उद्घाटन करके उत्पादन शुरू होने के बावजूद यह नमक आस-पास के इलाकों में ही उपलब्ध नहीं है तो फिर नमक जा कहां रहा है। यह नमक विदेश जा रहा है या कहीं और, यह तो सरकार व प्रशासन ही जानें, लेकिन जोगिंद्रनगर के किसानों को यह उपलब्ध नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही यह नमक जोगिंद्रनगर के मुख्य डिपो में उपलब्ध करवाया जाए। यदि जल्दी ही नमक उपलब्ध नहीं करवाया गया तो किसान सभा डिपो का घेराव करेगी। उन्होंने मांग की कि चट्टानी नमक हर राशन डिपो में उपलब्ध करवाया जाए, ताकि किसानों को भटकना पड़े।