Tuesday, September 17, 2019 01:48 PM

चरस तस्कर को चार साल कैद

चंबा में आदालत ने कसा शिकंजा, 25 हजार रुपए जुर्माना भी ठोंका

चंबा -स्पेशल जज कम जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंबा राजेश तोमर की अदालत ने धनी राम पुत्र फिसर वासी गांव द्रबडी तहसील सलूणी को चरस तस्करी के मामले में दोषी करार देते हुए चार वर्ष के कारावास की सजा सुनाई है। अदालत ने दोषी को 25 हजार रुपए जुर्माना भी लगाया है। अभियोजन पक्ष की ओर से अदालत में मुकदमे की पैरवी जिला न्यायवादी विजय रेहालिया ने की। अभियोजन पक्ष के मुताबिक तीन जनवरी, 2019 को पुलिस टीम ने पठानकोट एनएच मार्ग पर बनीखेत टोल टैक्स बैरियर के पास नाका लगा रखा था। इसी दौरान बनीखेत की ओर से आ रहा धनी राम पुलिस टीम को देखकर घबरा कर मौके से भागने का प्रयास करने लगा। पुलिस को धनी राम की गतिविधियां संदिग्ध दिखने पर पीछा कर धर दबोचा। पुलिस ने धनी राम की शक के आधार पर तलाशी लेने दौरान 340 ग्राम चरस बरामद की। पुलिस ने धनी राम के खिलाफ चरस तस्करी के आरोप में डलहौजी पुलिस थाना में मामला दर्ज किया। बाद में पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल पूर्ण करने के बाद चालान आगामी कार्रवाई हेतु अदालत में दायर कर दिया। अदालत में सुनवाई के दौरान अभियोजन ने दस गवाह पेश कर धनी राम पर लगे चरस तस्करी के आरोप को साबित किया। बहरहाल, अदालत ने दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद धनी राम को दोषी करार देते हुए चार वर्ष की कैद व पच्चीस हजार रूपए जुर्माने की सजा सुनाई है।