Monday, September 23, 2019 02:09 AM

चाबा शाकरा पुल बहा, परेशानी में लोग

सुन्नी -सुन्नी शिमला के ऐतिहासिक स्थल चाबा में बने चाबा शाकरा पैदल चलने वाले पुल के टूटने से जिला मंडी के कई गांवों के लोगों को सुन्नी, चाबा शिमला स्थानों के लिए आवाजाही का संपर्क टूट गया है। शाकरा, जेड़वी, बालड़ी, बिंदला, मरोला दर्जनों गांव के बाशिंदों को 500 मीटर के लिए 16 किमी का अतिरिक्त सफर तय करना पड़ेगा। बताया जा रहा है कि जिला मंडी के उक्त गांव के छात्र, कर्मचारी, किसान एवं दिनचर्या के लिए प्रतिदिन उक्त पुल से आवाजाही करते थे। रविवार को सतलुज में बढ़े जलस्तर के कारण बड़े-बड़े पेड़ पुल में टकराने से पुल पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। अब लोगों को चिन्ता सता रही है कि वे अपनी दिनचर्या कैसे निभाएंगे। लोगों ने सरकार से गुहार लगाई है कि शीघ्र ही पुल का निर्माण करके आवाजाही के लिए तैयार किया जाए। वहीं जनप्रतिनिधियों ने भी सरकार से मजबूत पुल के निर्माण की मांग की है। नगर पंचायत सुन्नी के मनोनीत सदस्य जितेन्द्र सिंह ने सरकार से पैदल चलने के स्थान पर वाहन योग्य पुल बनाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि कोलडेम क्षेत्राधिकार में आने के कारण कोलडेम प्रबंधन पुल का निर्माण करें। इसके लिए सरकार प्रबंधन पर वाहन योग्य पुल बनाने का दबाव डाले।