Sunday, November 17, 2019 04:25 PM

चार दवा दुकानों के लाइसेंस रद्द

शिमला  - शिमला में चार दवा दुकानों के लाइसेंस कैंसिल कर दिए गए हैं। दवा दुकानों पर छापेमारी के बाद यह बड़ी क ार्रवाई अमल में लाई गई है। जानकारी के मुताबिक दवा दुकानों में रिकॉर्ड सही नहीं पाए जाने को लेकर यह कार्रवाई की गई है, जिसमें अभी तय कार्रवाई के पहले स्तर के मुताबिक चार दवा दुकानों का लगभग सात दिन के लिए लाइसेंस केंसिल कर दिया गया है। जानकारी के मुताबिक दवा दुकानदारों को ये निर्देश जारी किए गए हैं कि वे तय नियमों के तहत दवाआें का रिकॉर्ड रखें जिसमें खास तौर पर शेड्यूल्ड मेडिसिन को सही तरह से रखने के निर्देश दिए गए हैं। गौर हो कि शिमला के सभी दवा दुकानों के रिकॉर्ड को जल्द ही खंगाला जाने वाला है। बताया जा रहा है कि अभी शिमला के लोअर बाजार और राम बाजार की दुकानों के दवा सैंपल जांच के लिए लैब भेजे जा रहे हैं, जिसकी रिपोर्ट कंडाघाट लैब से जल्द आने की संभावना जताई गई है। बताया जा रहा है कि जिन दवा दुकानों के लाइसेंस कैंसिल किए गए हैं, उसकी आगामी जांच भी की जाएगी। यदि आगामी जांच में भी इनकी लापरवाही पहले की तरह की पाई गई तो लाइसेंस रद्द करने की समय सीमा को बढ़ाया भी जा सकता है। गौर हो कि जारी निर्देशों के तहत यह साफ किया गया है कि दवा दुकानों क ो चलाने के लिए जो दिशा निर्देश दिए गए हैं, उसमें दवा दुकान मालिक काफी लापरवाही बरतते हैं, जिसमें खासतौर पर दवाआें की खरीददारी के रिकॉर्ड को सही तरह नहीं रख पाते हैं, जिस पर ये खिंचाई की जाती है।

यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर कार्रवाई

यातायात नियमों पर उल्लंघन करने वालों की भी अब खैर नहीं। शिमला में अब छापेमारी अभयान शुरू हो गया है। वाहन चालकों पर परिवहन विभाग की स्टेट लाइंग स्वैड ने शकंजा कसा है। परिवहन विभाग की टीम ने शिमला-शोघी में वाहनों पर एक्ट्रा लाइट लगाकर चलने और वाहनों पर हल्की ब्लैक फिल्म चढ़ा कर चलने वाले वाहनों को रोका और एक्ट्रा लाइटें भी निकलवाईं और मौके पर चालान किए। इसके अतिरिक्त छापे के दौरान ऐसे वाहन भी पकड़े जो प्राइवेट नंबर पर टैक्सी चला रहे थे। ऐसे वाहन चालकों को विभागीय निरीक्षकों ने चालान काटे। वहीं चेतावनी जारी कि कि यदि दोबार से प्राइवेट नंबर टैक्सी चलाते पाए गए तो सख्त कार्रवाई भी की जाएगी। जानकारी के मुताबिक विभाग ने निरीक्षण के दौरान 42 वाहनों के निरीक्षण किए, जिनमें से 14 का मौके पर चालान काटा और 21 हजार रुपए का जुर्माना वसूला।