Monday, July 06, 2020 07:24 AM

चिंतपूर्णी में दुकानदारों पर छाया संकट

मंदिर बंद होने से लॉकडाउन में छूट मिलने के बाद भी कोरोबार बंद

चिंतपूर्णी-धार्मिक स्थल चिंतपूर्णी में बाहरी राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं पर निर्भर चिंतपूर्णी के सभी दुकानदार बुरी तरह प्रभावित हैं। 17 मार्च से चिंतपूर्णी का तमाम बाजार पूरी तरह लॉकडाउन के चलते बंद पड़ा हुआ है। रोजमर्रा की दुकानें ही खुल रही हैं। बेशक हिमाचल सरकार ने सुबह सात से शाम तीन बजे तक दुकान खोलने की राहत दी है। लेकिन चिंतपूर्णी में अधिकांश दुकानदार चिंतपूर्णी मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं पर ही निर्भर थे। श्रद्धालुओं के ना आने से लोगों के कारोबार पूरी तरह ठप पड़े हुए हैं। जिस कारण इन हजारों दुकानदारों पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। कुछ एक दुकानदार दुकान में तो खोल रहे हैं, लेकिन कामकाज ना होने के कारण बुरे दौर से गुजर रहे है। जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि बड़े व्यापारियों ने चिंतपूर्णी में बिकने वाला आम पापड़ तथा खट्टा आम पापड़ कोल्ड स्टोर में लगा दिया है, वहीं छोटे दुकानदारों ने जो हजारों रुपए का आम पापड़ जो दुकानों में रखा था खराब होने के कगार पर पहुंच चुका है। जिस कारण दुकानदारों को कमाई तो नहीं हो रही, लेकिन उल्टा नुकसान भी उठाना पड़ रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा तीर्थ स्थानों पर बैठे छोटे दुकानदारों को अभी तक कोई राहत प्रदान नहीं की है। जिस कारण लोगों में भारी रोष पाया जा रहा है। गौरतलब है कि चिंतपूर्णी में लोकल कारोबार बहुत कम है। अधिकांश दुकानदार बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं पर ही निर्भर थे, लेकिन श्रद्धालुओं का आगमन बंद होने से अब इन दुकानदारों का भविष्य अंधकार में दिख रहा है। उधर श्रद्धालुओं के ना आने से होटल व्यवसायी ढाबा मालिक भी बुरे दौर से गुजर रहे हैं। कई लोगों ने लाखों रुपए बैंकों से कर्ज के रूप में लिया है। अब उक्त लोग अपने भविष्य  को ही नहीं बल्कि अपने परिवार का पालन पोषण करने में भी असमर्थ नजर आ रहे हैं। स्थानीय दुकानदारों रामपाल, वेद प्रकाश, अमन शर्मा, संजू शर्मा, राजकुमार, पवन कुमार, जीवन कालिया, विनोद कुमार, निरंजन कालिया व अन्य कई लोगों ने बताया कि यदि श्रद्धालुओं का अगमन शुरू नहीं होता है तो चिंतपूर्णी के दुकानदारों के लिए भविष्य मुसीबत की घड़ी से कम नहीं दिख रहा। उन्होंने प्रदेश सरकार व केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि केवल चिंतपूर्णी ही नहीं बल्कि प्रदेश के तमाम मंदिरों में कारोबार करने वालों को शीघ्र राहत दी जाए।

The post चिंतपूर्णी में दुकानदारों पर छाया संकट appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.