Saturday, April 20, 2019 01:55 PM

चुनावी खर्चे पर पैनी नजर

रिकांगपिओ —सहायक निर्वाचन अधिकारी एवं उपमंडलाधिकारी कल्पा सुरेंद्र ठाकुर की अध्यक्षता में लोक सभा आम चुनाव 2019 के दृष्टिगत चुनाव व्यय पर्यवेक्षक टीमों की एक बैठक आयोजित की गई। जिस में सहायक व्यय पर्यवेक्षक विभिन्न नोडल अधिकारियों एसएसटीए वीएसटीए वीवीटी व लेखा दल के सदस्यांे ने भाग लिया। सहायक निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि स्वतंत्र एवं निश्पक्ष चुनाव के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने निर्वाचन व्यय निगरानी प्रणाली स्थापित की है। यह प्रणाली चुनाव के दौरान प्रत्याक्षियों द्वारा विभिन्न कार्या के लिए खर्च की जाने वाली राशि का अनुश्रवण करती है। इस कार्य के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा व्यय पर्यवेक्षक नियुक्त किए जाते है। उन्होंने कहा कि व्यय पर्यवेक्षक के सहायता एंव अनुश्रवण के लिए सहायक व्यय पर्यवेक्षक तैनात किए गए है जिसकी चुनाव के दौरान व्यय अनुश्रवण आदि कार्यों पर महत्त्वपूर्ण भूमिका रहती है। सहायक व्यय पर्यवेक्षक स्थापित विभिन्न माध्यमों द्वारा चुनावी खर्चे का आंकलन करते है। उन्होंने बताया कि इस कार्य के लिए शेडो आबलोकन रजिस्टर बनाए जाते है।  ठाकुर ने बताया कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जिला किन्नौर में उड़नदस्तों एवं अन्य आवश्यक टीमों का गठन कर दिया गया है और पूरी प्रणाली के बेहतर समन्वय के लिए जिला मुख्यालयों में व्यय प्रकोष गठित किया गया है । उन्होंने इस कार्यों में गठित विभिन्न टीमों से कहा कि दैनिक आधार पर अपनी रिर्पोटे प्रेषित करे। उन्होंने बताया कि उम्मीदवारों को चुनाव खर्च के लिए नामांकन भरने से पूर्व से अलग बैंक खाता खोलना होगा।