Tuesday, September 17, 2019 01:55 PM

चेतावनी… प्रवासी मजदूर करवा लें पंजीकरण

गगरेट। पुलिस थाना गगरेट में बिना पंजीकरण करवाए क्षेत्र में रह रहे प्रवासी मजदूरों को कानूनी प्रक्रिया का सामना करना पड़ सकता है। क्षेत्र में बिना पंजीकरण के रह रहे प्रवासी मजदूर किसी आपराधिक गतिविधि को अंजाम देकर यहां से रफूचक्कर होकर पुलिस के लिए सिरदर्द न बने इससे पहले ही गगरेट पुलिस ने बिना पंजीकरण के यहां रह रहे  प्रवासी मजदूरों पर शिकंजा कसने का फैसला लिया है। पुलिस उन लोगों पर भी शिकंजा कस सकती है, जिनके यहां ये प्रवासी मजदूर रह रहे हैं। एसएचओ हरनाम सिंह ने भी प्रवासी मजदूरों को आश्रय देने वाले स्थानीय लोगों को प्रवासी मजदूरों का पर्चा बारह पुलिस थाना में तसदीक करवाने की ताकीद की है। उपमंडल गगरेट में रोजी-रोटी की तलाश में हर साल बिहार, यूपी, झारखंड व राजस्थान से हर साल हजारों मजदूर आते हैं। इनमें से अधिकांश ईंट भट्ठों पर कार्यरत हैं तो कई भवन निर्माण सहित अन्य निर्माण कार्यों में लगे हुए हैं। पुलिस थाना गगरेट में दर्ज कई आपराधिक मामले इस बात की गवाही दे रहे हैं कि कई बार प्रवासी मजदूर यहां आपराधिक घटनाओं को अंजाम देकर रफूचक्कर हो गए और जिन्हें ढूंढ निकालना पुलिस के लिए टेढ़ी खीर ही साबित हुआ। हालांकि नियमानुसार किसी को किराएदार रखने पर मकान मालिक की यह नैतिक जिम्मेदारी है कि इसकी सूचना पुलिस को दे।  पुलिस ने ऐसे लोगों को अब पंद्रह दिन के भीतर पुलिस थाना में पहुंच कर पर्चा बारह तसदीक करवाने को कहा है। इसके बाद पुलिस कानूनी प्रक्रिया अमल में लाई जाएंगी।