Monday, July 06, 2020 08:39 AM

जमीनी विवाद ने रोका फायर हाइड्रेंट प्रोजेक्ट का काम

चिंतपूर्णी-मां श्रीचिंतपूर्णी फायर हाइड्रेंट प्रोजेक्ट का काम 80 फीसदी काम पूरा हो चुका है, लेकिन इस प्रोजेक्ट का मेन हिस्सा जिसमें कि पानी के टैंक को पानी की सप्लाई व पानी की डिस्ट्रीब्यूशन को फायर हाइड्रेंट प्वाइंट से जोड़ा जाना है। वहां पर निजी भूमि में दो से तीन पाइपों को नहीं जोड़ने दिया जा रहा है। इसके कारण काम रूक गया है।इसके कारण पूरा फायर हाइड्रेंट प्रोजेक्ट खटटाई में पड़ गया है। वहीं, बताते चलें इस फायर हाइड्रेंट प्रोजेक्ट पर 70 लाख के करीब राशि खर्च की गई है। इसमें धलवाड़ी गांव में पानी का टैंक व पंप हाउस  के साथ पानी की पाइप भी चिंतपूर्णी बाजार तक डाली जा चुकी है। इसके अलावा पानी का टैंक जिससे पानी की सप्लाई होनी है। वह भी बनकर तैयार है। फायर हाइड्रेंट पॉइंट भी मेन बाजार चिंतपूर्णी में इंस्टॉल कर दिए गए हैं, पर जहां पर पानी का टैंक बनाया गया है। मां श्री चिंतपूर्णी फायर हाइड्रेंट प्रोजेक्ट के तहत बाजार में चार के करीब फायर हाइड्रेंट पॉइंट को इंस्टॉल कर दिए गए हैं। जबकि प्लानिंग में इनकी संख्या 6 है। वहीं ठेकेदार संजीव कुमार ओहरी का कहना है कि जमीनी विवाद के कारण 2 फायर  हाइड्रेंट  प्वाइंट व चिंतपूर्णी बाजार में बने टैंक को सप्लाई व डिस्ट्रीब्यूशन का सिर्फ कुछ मीटर का काम निजी भूमि मामले की आपत्ति के कारण हैं। उन्होंने कहा कि इस बारे में विभाग को सूचित कर दिया गया है। वहीं जलशक्ति विभाग के एसडीओ पंकज शर्मा का कहना है कि इस प्रोजेक्ट पर 70 लाख के करीब खर्च आया है। जबकि एक जगह पर जमीनी विवाद होने के कारण इसका काम पूरा नहीं हो सका है। इसके लिए विभाग जमीन मालिक के साथ बातचीत करके हल निकालने के लिए कोशिश कर रहे है। जैसे ही हल निकलता है वैसे ही फायर हाइड्रेंट प्रोजेक्ट काम करना शुरू कर देगा।

 

The post जमीनी विवाद ने रोका फायर हाइड्रेंट प्रोजेक्ट का काम appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.