Monday, August 26, 2019 10:05 AM

जरा सी चूक तो आफत में जान

यहां आज भी खतरनाक रास्तों से कुर्सी पर उठाकर अस्पताल पहुंचाए जाते हैं मरीज

औट -द्रंग विधनसभा क्षेत्र की स्नोर घाटी के ग्रामीण अभी भी कठिन परिस्थियों में जीने को मजबूर हैं। सड़क सुविधा न होने के कारण ग्रामीणों को हर रोज परेशानी का सामना करना पड़ता है। सड़क सुविधा से वंचित ग्रामीणों का कहना है कि गांव में जब कोई बीमार होता है तो मरीजों को कठिन परिस्थियों व दुर्गम रास्तों से  कुर्सी पर उठा कर अस्पताल पहुंचना पड़ता है। शुक्रवार को स्नोर घाटी की ग्राम पंचायत बाहंदी के गांव बाता की महिला प्रभी देवी को बीमार होने पर ग्रामीणों ने अस्पताल पहुंचाया। ग्रामीणों में विपिन, किशन, नेत्र सिंह, रोशन लाल,  लेद राम, उत्तम राम तथा चमारू राम आदि नेे बताया कि बाता गांव अभी भी सड़क सुविधा से वंचित है। ऐसे में ग्रामीण स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी जा रही 108 तथा अन्य सुविधाओं का लाभ नहीं उठा पा रहे हंै। ग्रामीणों ने स्थानीय विधायक जवाहर  ठाकुर से मांग की है कि इस गांव को जल्द से जल्द सड़क सुविधा से जोड़ा जाए, ताकि गांव के लोगों को राहत मिल सके।