Monday, July 22, 2019 12:43 AM

जल्द हटेगी मदर-चाइल्ड केयर यूनिट पर लगी ब्रेक

टांडा—डा. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कालेज एवं अस्पताल टांडा की महत्त्वाकांक्षी मदर-चाइल्ड केयर यूनिट परियोजना पर लगी ब्रेक अब जल्द ही हटेगी। चयनित भूमि पर बरगद के पेड़ के चलते रुके निर्माण कार्य को जल्द ही प्रशासन शुरू करने वाला है। इस बरगद के पेड़ को काटने की अनुमति कंेद्र से अस्पताल प्रशासन को मिल गई है। जिसके चलते अब प्रशासन ने इस पेड़ को काटने के लिए वन विभाग को पत्र लिख दिया है। साथ ही प्रशासन द्वारा एमसीएच के निर्माण कार्य को जल्द से जल्द आरंभ करने को लेकर प्रक्रिया आरंभ कर दी है।जानकारी के अनुसार टांडा अस्पताल में गर्भवती महिलाआंे तथा प्रसव के उपरांत जच्चा-बच्चा को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए टीएमसी में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन हिमाचल प्रदेश के सौजन्य से मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य खंड के निर्माण को लेकर सितंबर 2017 में शिलान्यास किया गया था। इसका निर्माण टांडा अस्पताल के मुख्य गेट के समीप ही चिन्हित भूमि पर किया जाना है। इस अस्पताल के निर्माण को लेकर बजट का प्रावधान भी टीएमसी प्रशासन को कर दिया गया था। जिसके बाद टीएमसी प्रशासन ने मदर-चाइल्ड केयर यूनिट के निर्माण को लेकर प्रक्रिया भी आरंभ कर दी थी। इस अस्पताल मंे जच्चा-बच्चा को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई जानी हैं तथा इससे टांडा मंे मौजूदा समय मंे पेश आ रही समस्याएं भी कम होंगी। टीएमसी के मुख्य द्वार के समीप ही बनने वाले इस अस्पताल के निर्माण को लेकर प्रशासन ने इस वर्ष के शुरुआत में ही प्रक्रिया को आरंभ कर दिया था। जिसके चलते इस क्षेत्र की पैमाइश करवाने के अलावा विभिन्न प्रजातियांे के पेड़ांे का कटान भी किया गया था। लेकिन निर्माण कार्य स्थल पर बरगद के पेड़ के चलते इस निर्माण कार्य को अस्पताल प्रशासन द्वारा आरंभ नहीं किया जा रहा था। बरगद के पेड़ कटान पर प्रतिबंध होने के चलते इसकी अनुमति के लिए कंेद्र को पत्र लिखा गया था। अस्पताल प्रशासन द्वारा लिखे गए पत्र पर अब पेड़ कटान को लेकर मंजूरी प्राप्त हो गई है। जिसके चलते अब टीएमसी प्रशासन द्वारा जल्द ही निर्माण कार्य को आरंभ करने के लिए प्रक्रिया आरंभ कर दी है। उधर, ज्वाइंट डायरेक्टर टांडा मेडिकल कालेज कुलवीर सिंह ने बताया कि मदर-चाइल्ड केयर यूनिट को चयनित भूमि पर स्थित बरगद के पेड़ कटान को लेकर मंजूरी मिल गई है। जल्द ही यूनिट का कार्य आरंभ कर दिया जाएगा।