Monday, September 16, 2019 08:31 PM

जवाली अस्पताल में धूल फांक रही अल्ट्रासाउंड मशीन

जवाली -सिविल अस्पताल जवाली में लाखों की लागत से अल्ट्रासाउंड मशीन तो भाजपा ने उपलब्ध करवा दी, लेकिन आजतक नियमित तौर पर रेडियोलॉजिस्ट की नियुक्ति नहीं हो पाई है। अगर नियमिततौर पर रेडियोलॉजिस्ट की नियुक्ति नहीं करनी थी, तो फिर लाखों की लागत से अल्ट्रासाउंड मशीन खरीदने का क्या औचित्य रहा। नियमित रेडियोलॉजिस्ट न होने के करण लाखों की लागत से खरीदी गई अल्ट्रासाउंड मशीन को धूल चाट रही है। जनता को इसका समुचित लाभ नहीं मिल पा रहा है। उधारी के रेडियोलॉजिस्ट के सहारे काम चलाया जा रहा है। बुद्धिजीवियों ने कहा कि शुरू-शुरू में माह के हर गुरुवार को सिविल अस्पताल जवाली में रेडियोलॉजिस्ट अल्ट्रासाउंड करने के लिए आता था, लेकिन बाद में माह के दूसरे व चौथे गुरुवार को नूरपुर से रेडियोलॉजिस्ट को भेजा जाता रहा, लेकिन पिछले एक माह से रेडियोलॉजिस्ट के सिविल अस्पताल जवाली में दर्शन नहीं हो रहे हैं यानी रेडियोलॉजिस्ट नहीं आ रहा है, जिस कारण अल्ट्रासाउंड सुविधा चरमरा कर रह गई है। सिविल अस्पताल जवाली में कार्यरत डाक्टर एक महीने से अल्ट्रासाउंड करवने वाले मरीजों को 22 अगस्त की तिथि बता रहे थे, जिससे 22 अगस्त को अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए काफी ज्यादा महिलाएं सिविल अस्पताल जवाली में अल्ट्रासाउंड करवाने पहुंच गईं, लेकिन रेडियोलॉजिस्ट के न आने के कारण मायूस होकर वापस लौट गईं। महिलाओं संतोष कुमारी, सुनिता देवी, रजनी कुमारी व पल्लवी इत्यादि ने कहा कि उनको 22 अगस्त यानी आज की तारीख अल्ट्रासाउंड के लिए दी गई थी और आज जब आई,  तो बताया गया कि रेडियोलॉजिस्ट नहीं आएगा, जिस कारण अल्ट्रासाउंड नहीं हो पाएगा। उन्होंने कहा कि वे अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए टांडा या नूरपुर में जाती हैं, तो कहा जाता है कि आप जवाली में जाकर करवाओ, लेकिन जवाली में अल्ट्रासाउंड नहीं हो रहे हैं। निजी अस्पतालों में महंगे दाम पर अल्ट्रासाउंड करवाने को मजबूर होना पड़ रहा है। महिलाओं ने कहा कि विधायक अर्जुन सिंह ने अल्ट्रासाउंड मशीन तो उपलब्ध करवा दी, लेकिन शायद रेडियोलॉजिस्ट की नियुक्ति करवाना भूल गए हैं। लोगों ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार, विधायक अर्जुन सिंह से मांग की है कि सिविल अस्पताल जवाली में नियमित तौर पर रेडियोलॉजिस्ट की नियुक्ति की जाए ताकि अल्ट्रासाउंड करवाने को भटकना न पड़े। इस बारे में सीएमओ कांगड़ा डा. गुरदर्शन गुप्ता से बात हुई तो उन्होंने कहा कि आगे से हर माह के दूसरे व चौथे गुरुवार को जवाली में रेडियोलॉजिस्ट जाएगा तथा अल्ट्रासाउंड होंगे। उन्होंने कहा कि मैंने इस बारे में सिविल अस्पताल जवाली को भी निर्देश दे दिया है। आगे से अगर कोई कोताही हुई तो इस पर सख्त एक्शन लिया जाएगा।