Tuesday, October 15, 2019 09:55 AM

जवाली की खड्डों का सीना छलनी

देहर और गुहन खड्ड में खनन माफिया जेसीबी से बेधड़क कर रहा खनन

जवाली-विधानसभा क्षेत्र जवाली में खनन माफिया बेलगाम है तथा सरेआम खनन माफिया बेखौफ होकर खड्डों का सीना छननी कर रहा है। खनन माफिया के हौंसले इतने बुलंद हैं कि जेसीबी को लगाकर खनन किया जा रहा है। खनन माफिया नियमों को ताक पर रखकर खनन कर रहा है, लेकिन उसको पूछने वाला कोई नहीं है। क्रशर माफिया भी खड्डों में जेसीबी लगाकर खनन करने में जुटा हुआ है तथा जेसीबी से तीन से चार फुट तक खनन किया जा रहा है। देहर खड्ड व गुहन खड्ड में लगे क्रशर लगातार दिन में भी जेसीबी के माध्यम से खनन करते हैं। गुहन खड्ड में जेसीबी के माध्यम से सरेआम खनन होते देखा। किसी भी तरह का कोई खौफ माफिया में देखने को नहीं मिल रहा था। नियमों के अनुसार कोई भी जेसीबी से खड्ड में खुदाई नहीं कर सकता है, जबकि क्रशर मालिक सरेआम जेसीबी से ही खड्डों का सीना छननी कर रहे हैं।  अधिकतर क्रशर अवैध रूप से चल रहे हैं, जिन पर कोई भी कार्रवाई नहीं की जा रही है, जिनके बिजली के कनेक्शन काट दिए गए हैं, वे अब जेनरेटर लगाकर क्रशर चला रहे हैं और विभाग की आंखों में धूल झोंक रहे हैं। जब कभी भी खनन विभाग दबिश देता है तो खनन माफिया को उसकी पहले ही भनक लग जाती है और खनन माफिया सतर्क हो जाता है। बुद्धिजीवियों ने कहा कि क्रशर माफिया राजनेताओं के इशारे पर फल-फूल रहा है। कहीं न कहीं पुलिस तंत्र भी खनन माफिया के साथ जुड़ा हुआ है। बुद्धिजीवियों ने कहा कि पुलिस मात्र ट्रैक्टरों के ही चालान काटकर अपनी ड्यूटी बजा लेती है और क्रशरों के चालान नहीं किए जाते हैं। उन्होंने मांग की है जेसीबी से खनन करने वाले माफिया पर सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाए। इस बारे में एसडीएम जवाली अरुण कुमार शर्मा ने कहा कि समय-समय पर खड्डों का निरीक्षण किया जाता है और खनन करने वालों के चालान किए जाते हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस को भी खनन माफिया के खिलाफ सख्त एक्शन के निर्देश दिए गए हैं।