Sunday, September 15, 2019 01:19 PM

जवाली में 70 प्रतिशत मतदान

जवाली—रविवार को लोकसभा चुनाव को लेकर विस क्षेत्र जवाली के अंतर्गत 117 पोलिंग स्टेशनों पर सुबह 6ः30 बजे ही मतदाताओं की कतारें लगनी शुरू हो गईं तथा मतदाताओं में मतदान को लेकर काफी क्रेज देखने को मिला। हर पोलिंग स्टेशन पर पोलिंग पार्टियों द्वारा पुलिस व सीआरपीएफ की मदद से शांतिपूर्ण ढंग से मतदान करवाया। मतदाताओं ने भी बड़ी ही शांतिपूर्वक अपने मत का प्रयोग किया। शाम पांच बजे तक 65014 मतदाताओं द्वारा मत का प्रयोग किया जा चुका था, जिसमें 29571 पुरुष व 35443 महिला मतदाताओं ने मत का प्रयोग कर लिया था। पांच बजे तक विस क्षेत्र जवाली में 70 प्रतिशत पोलिंग हो गई थी। मतदान केंद्रों में दिव्यांग मतदाताओं को घर से पोलिंग स्टेशन तक लाने के लिए वाहन लगाया गया था जो कि दिव्यांग मतदाता को मतदान केंद्र तक लेकर आया तथा मत का प्रयोग करने उपरांत वापस उसके घर पर छोड़ कर आया। दिव्यांग मतदाताओं को वोट डलवाने के लिए 35 पोलिंग स्टेशनों में व्हीलचेयर की भी व्यवस्था की गई थी। दिव्यांग मतदाताओं ने बड़े ही आरामपूर्वक अपने मत का प्रयोग किया। राजकीय उच्च पाठशाला नानाहार, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कुठेड़ तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सोलदा में स्थापित मतदान केंद्रों को आदर्श मतदान केंद्र बनाया गया था। उक्त मतदान केंद्रों में मतदाताओं के लिए रेड कारपेट बिछाया गया था। मतदाताओं को बैठने के लिए टैंट लगाए गए थे तथा वालंटियर्स को पीने के पानी की व्यवस्था हेतु लगाया गया था।  इसके अलावा शतकवीर मतदाताओं शीला देवी (100) पत्नी चिंतो राम निवासी भलेरा भलाड़ सरन दास (100) पुत्र तिहडू राम निवासी दसोली, निक्की देवी (104) पत्नी मचला राम निवासी चननी, भेकड़ी राम (100) पुत्र मेहर सिंह निवासी डोल, प्रीतो देवी (100) पत्नी भगत राम निवासी बुसकबाड़ा, अमरती देवी (102) पत्नी गुरदयाल सिंह निवासी मैरा, केसरी देवी (101) पत्नी बलबंत सिंह निवासी मरियानाए लाल सिंह (101) पुत्र शंकर सिंह निवासी घाड़, साहब सिंह (100) पुत्र भगत राम निवासी अमलेलाए गणेशु राम (100) पुत्र तारा सिंह निवासी स्पेल ने मतदान में बढ़-चढ़ कर भाग लिया व मत का प्रयोग कर सरकार बनाने में अपना योगदान दिया। अरुण कुमार शर्मा ने कहा कि ईवीएम सहित अन्य कोई भी शिकायत उनके क्षेत्र में नहीं आई।