Monday, July 06, 2020 07:45 AM

जाले में फंसने से कक्कड़ की मौत

वन विभाग और डाक्टर की कोशिश के बाद भी नहीं बची बेजुवान की जान

दौलतपुर चौक – क्षेत्र के गांव नंगल जरियालां में एक कक्कड़ (जंगली बकरी) के तार के जाले में फंस जाने से दर्दनाक मौत होने का समाचार मिला है।  जानकारी के अनुसार उक्त कक्कड़ गुरुवार सुबह वन विभाग और पुलिस चैक पोस्ट से लगभग एक किलोमीटर की दूरी पर सड़क के किनारे जंगली जानवरों से सुरक्षा हेतु खेतों को लगाए गए लोहे की तार के जाले में फंस गया। जिसे स्थानीय लोगों मंजू जरियाल, माला रानी, अध्यापक प्रदीप कुमार और अभिनव जरियाल इत्यादि ने छूटने के लिए किए संघर्ष करते हुए देखा, जिसकी सूचना उन्होंने तुरंत वन अधिकारियों और पशु चिकित्सक को दी। मौके पर पहुंचे फार्मासिस्ट हकीकत राय ने बताया कि जाल में फंसने से इसका एक सींग टूट गया था, इसके अलावा शरीर में हल्की खरोंचें भी आई थीं। उन्होंने बताया कि उपचार के बाद उसे एक पशुशाला में रखा गया कि शायद दवाई के असर से थोड़ी देर बाद ठीक हो जाए, लेकिन उक्त कक्कड़ सहमा हुआ था और थोड़ी देर बाद उसने दम तोड़झ्रविनाश कुमार, वन राजकीय उपाधिकारी नंगल जरियालां प्रदीप सिंह, वन रक्षक दविंद्र कुमार की टीम भी मौके पर पहुंची और ऊक्त कक्कड़ को एक जेसीबी मशीन की मदद से सुनसान जगह पर ले जाकर ग्राम पंचायत नंगल जरियालां के उप प्रधान शौर्य चक्र विजेता कैप्टन सुशील जरियाल की उपस्थिति में दफना दिया। उधर, वन खंड अधिकारी अविनाश कुमार ने ऊक्त मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि स्थानीय लोगों से सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और मृत कक्कड़ को विधिवत तरीके से सुनसान जगह पर ले जाकर दफना दिया गया। उन्होंने बताया कि जाले में फंसने से ऊक्त कक्कड़ घायल एवं सहम गया था जिस वजह से उसकी मौत हो गई।

The post जाले में फंसने से कक्कड़ की मौत appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.