Monday, June 01, 2020 01:51 AM

जोगिंद्रनगर में 2700 लोगों का होम क्वारंटाइन पूरा

 प्रदेश-बाहरी राज्यों से पहुंचे थे 3435, अब बचे 735

जोगिंद्रनगर-जोगिंद्रनगर उपमंडल में प्रदेश तथा प्रदेश के बाहर से पहुंचे कुल 3435 लोगों में से 2700 लोगों ने होम क्वारंटीन की अवधि को पूरा कर लिया है। प्रदेश में लगे लॉकडाउन और कर्फ्यू के बीच प्रदेश और बाहरी राज्यों से जोगिंदरनगर उपमंडल के विभिन्न क्षेत्रों में पहुंचे 2700 लोगों ने होम क्वारंटीन के नियमों को सख्ती से पालन करते हुए कोरोना के साथ जीने का एक बेहतरीन संदेश भी दिया है। सबसे अहम पहलु यह रहा कि सभी ने होम क्वारंटीन के नियमों की अनुपालना स्वास्थ्य एवं पविर कल्याण विभाग और सरकार के आदेशों के तहत पूरी की। यही कारण रहा कि इतनी संख्या में होम क्वारंटीन किए गए लोगों में से नाममात्र ही होम क्वारंटाइन उल्लंघना के मामले सामने आए हैं। एसडीएम जोगिंद्रनगर अमित मैहरा ने बताया कि जोगिंद्रनगर उपमंडल में कुल 3435 लोग लॉकडाउन शुरू होने बाद प्रदेश व प्रदेश के बाहर से पहुंचे हैं, जिनमें से 403 हिमाचल प्रदेश से संबंधित, चंडीगढ़ से 1027, दिल्ली से 958, पंजाब से 402, हरियाणा से 253, महाराष्ट्र से 105, गोवा से 93, उत्तर प्रदेश से 73, उत्तराखंड से 39, राजस्थान से 31, गुजरात से 16, कर्नाटक से 10, जम्मू व कश्मीर से 9, छत्तीसगढ़ से 5, मध्य प्रदेश से तीन, दमन व दीव तथा पुडुच्चेरी से 2-2, जबकि आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, तेलंगाना व पश्चिम बंगाल से एक-एक व्यक्ति शामिल है। उन्होने बताया कि अब केवल 735 लोग ही ऐसे रह गए हैं जिन्होने होम क्वारंटीन की अवधि को पूर्ण नहीं किया है। जोगिंदरनगर उपमंडल के अंतर्गत द्रुब्बल पंचायत के कुनकर गांव में से केवल मात्र एकही कोरोना पॉजिटिव का मामला सामने आया था। इस मामले में भी होम क्वारंटीन नियमों की अनुपालना पूरी सतर्कत्ता के साथ होने से कोरोना का संक्रमण परिवार व अन्य लोगों तक नहीं पहुंच पाया। इसके अलावा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा समय-समय पर उप मंडल में रैंडम सैंपल भी लिए जा रहे हैं, जिनमें से अब तक नेगेटिव रिपोर्ट ही सामने आई है। उन्होंने होम क्वारंटाइन में शामिल शेष बचे लोगों से नियमों की सख्ती से अनुपालना सुनिश्चित बनाने का आग्रह किया है ताकि क्षेत्र को कोरोना संक्रमण से मुक्त रखा जा सके। इसके साथ ही कहा कि यदि किसी व्यक्ति को कोरोना संक्रमण से जुड़ा कोई भी लक्षण पाया जाता है तो वह इसे छिपाने के बजाय स्वास्थ्य कर्मियों के ध्यान में लाए, ताकि समय रहते उचित कदम उठाए जा सकें।

उपमंडल में बनाए 30 संस्थागत क्वारंटाइन केंद्र

अमित मैहरा ने बताया कि जोगिंदरनगर उपमंडल में कुल 30 संस्थागत क्वारंटाइन केंद्र स्थापित किए गए हैं, जिनमें अब तक कुल 115 लोगों को रखा गया था। इनमें से 12 लोगों ने निर्धारित अवधि को पूर्ण कर लिया है तथा अब शेष 103 लोग रह रहे हैं। उन्होंने बताया कि उपमंडल में संस्थागत क्वारंटाइन लोगों के सैंपल भी लिए जा रहे हैं, ताकि कोरोना संक्रमण की कोई संभावना न रहे।

बाहर निकलते समय मास्क का करें इस्तेमाल

उन्होंने आम लोगों से भी अपील की है कि वे घर से बाहर निकलते वक्त मास्क का इस्तेमाल करें तथा पर्याप्त सामाजिक दूरी की अनुपालना भी सुनिश्चित बनाएं। समय-समय पर हाथों को साबुन से धोते रहें तथा हैंड सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें। उन्होने कहा कि लोगों की सजगता ही कोरोना संक्रमण से बचाव है। ऐसे में सभी लोगों से पूरी एहतियात बरतनें की भी अपील की है।