Monday, September 16, 2019 07:59 PM

जोनल अस्पताल को 5.30 करोड़ बजट

स्वास्थ्य सुविधाओं की मजबूती पर खर्च होंगे पैसे, रोगी कल्याण समिति की बैठक के दौरान मिली स्वीकृति

मंडी -उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर की अध्यक्षता में जोनल अस्पताल मंडी की रोगी कल्याण समिति की गवर्निंग परिषद की बैठक हुई। बैठक में समिति के वर्ष 2019.20 के लिए अनुमानित 5 करोड़ 30 लाख 56 हजार 920 रुपए के बजट को स्वीकृति प्रदान की गई। यह धनराशि अस्पताल में विभिन्न स्वास्थ्य सुविधाएं की मजबूती के लिए खर्ची जाएगी। इस अवसर पर उपायुक्त ने जोनल अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाओं के सुदृढ़ीकरण पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि समिति अस्पताल में रोगियों को दी जाने वाली सुविधाओं में सुधार और सहायता को और मजबूती दे। समिति की रोगियों के कल्याण के लिए सरकार द्वारा चलाई गई जनहितैषी योजनाओं का लाभ पहुंचाने में महत्त्वपूर्ण भूमिका है। बैठक में अस्पताल लैबए ब्लड बैंक सहित अन्य शाखाओं के लिए जरूरी उपकरणों की खरीद की स्वीकृति दी गई। इसके अतिरिक्त विभिन्न वार्डों और ओपीडी के मरम्मत कार्य और अस्पताल परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगाने के प्रस्ताव को भी स्वीकृति दी गई। पोस्टमार्टम के लिए डियूटी देने वाले सफाई कर्मचारियों का मानदेय बढ़ाकर प्रति पोस्टमार्टम 200 रुपए करने की मंजूरी दी गई। तामीरदारों की सुविधा के लिए वेटिंग एरिया में एलईडी टीवी लगाने के प्रस्ताव को भी स्वीकृति दी गई। बैठक में रोगी कल्याण समिति के अंतर्गत विभिन्न योजनाओं के तहत रोगियों को पिछले वर्ष उपलब्ध करवाई गई सेवाओं के बारे में भी अवगत करवाया गया। अस्पताल में आयुष्मान भारत और हिमकेयर के अंतर्गत वाले रोगियों को निःशुल्क उपचार उपलब्ध करवाया गया है। बैठक में गवर्निंग परिषद के गैर सरकारी सदस्यों ने अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी को लेकर अपने बहुमूल्य सुझाव दिए। चिकित्सा अधीक्षक डा. नागराज पवार ने बैठक की कार्यवाही का संचालन किया। उन्होंने रोगी कल्याण समिति की विभिन्न गतिविधियों एवं कार्यों का ब्यौरा प्रस्तुत किया। बैठक में जिला परिषद अध्यक्ष सरला ठाकुर, नगर परिषद की अध्यक्ष सुमन ठाकुर, जिला भाजपा अध्यक्ष रणवीर सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. जीवानंद चौहान, व्यापर मंडल के अध्यक्ष राजेश महेंद्रू, प्रेस क्लब के अध्यक्ष अंकुश सूद, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा. दिनेश ठाकुर सहित अन्य सरकारी और गैर सरकारी सदस्य उपस्थित रहे।