Tuesday, March 31, 2020 01:38 PM

टायर में ताला जड़ने का क्या तुक

सांगला में पर्यटकों की गाडि़यों को लॉक लगाने पर घिरी पुलिस, लोगों ने उठाए सवाल

सांगला - स्थानीय बाजार सांगला में पुलिस थाना द्वारा जबरन गाडि़यों का चालान करने का मामला आए दिन सामने आता है, इसके बावजूद शनिवार को स्थानीय बाजार सांगला में दो पर्यटक वाहन के टायर में ताला लगाने की सूचना से स्थानीय लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है। स्थानीय बाजार के व्यापारियों ने इसका कड़ा विरोध करने हुए बताया कि पुलिस स्थानीय बाजार सांगला में बेवजह चालान का करते है लेकिन अब पर्यटकों को भी तंग किया जा रहा है। वाहन खड़ा होने से  बाजार में ट्रैफिक पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है, लेकिन पुलिस द्वारा बाजार में किसी भी वाहन को रुकने नहीं दिया जाता है ऐसे में व्यापारियों को नुकसान उठाना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि स्थानीय बाजार सांगला में सड़क के दोनों छोर पर गाड़ी खड़ी करने के बाद भी तीन वाहन आसानी से गुजर सकती है। लेकिन पुलिस गाडि़यों को एक मिनट भी खड़ी होने नहीं देती है। इन दिनों बर्फबारी हो रही है ऐसे में ट्रैफिक भी नहीं होता है लेकिन स्थानीय पुलिस रोजाना गाडियों को चालान करने से सांगला वैली के बारे में पर्यटकों में दुश्प्रचार होता है। कांग्रेस के जिला अध्यक्ष उमेश नेगी, प्रधान ग्राम पंचायत सांगला सचिन नेगी ने बताया कि सांगला बाजार में चार वाहन आसानी से एक साथ चल सकते है टै्रफिक कभी भी नहीं रूकती है। ऐसे में गाडि़यों का जबरन चालान करना व पर्यटकों के वाहनों में ताला लगाना पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाता है। उन्होंने पुलिस अधिकारी व प्रशासन से मांग की है कि स्थानीय बाजार सांगला में सड़क के  एक और वाहन खड़ी होनी चाहिए जिसे आसपास के लोगों व पर्यटकों के वाहन पार्क किया जा सकें इससे व्यापार भी बढ़ेगा व लोगों को भी सुविधा मिलेगी। सांगला वैली में दिल्ली से आय पर्यटक दीपक व विकास ने बताया कि बर्फबारी में गाड़ी खड़ी कर दी थी दोपहर को जेसीबी द्वारा रास्ता साफ करने के बाद हमने वापस जाने को निकले तो पुलिस द्वारा गाडि़यों के टायर को लॉक कर दिया गया है। पुलिस थाना सांगला के अधिकारी ने फोन पर बताया कि गाड़ी बाहर की है नो पार्किंग जोन में चालान के चलते लॉक किया गया है।