Wednesday, February 26, 2020 03:50 PM

टिक्कर-खमाड़ी सड़क बंद

बिजली-पानी नहीं होने से लोगों की दिक्कतें

बढ़ीं, प्रदेश सरकार से लगाई राहत की फरियाद

ननखड़ी -दो दिन से हो रही मूसलाधार बारिश की वजह से जहां जिला भर में नुकसान हुआ है वहीं ननखड़ी तहसील की टिक्कर-खमाड़ी सड़क भी पूरी तरह से बंद हो चुकी है। यह सड़क 52 किलोमीटर लंबी है। बारिश के कारण इस मार्ग में जगह-जगह दर्जनों पेड़ गिर गए हैं जिस कारण आवाजाही पूरी तरह से प्रभावित है। इसके साथ सड़क में कई जगहों पर भूस्खलन भी हुआ है जिससे सड़क का नीचला हिस्सा ढह गया है। यहां कई जगहों पर पहाड़ी की ओर से मलबा आ गया है जिससे सड़क बाधित है। कुंगलबाल्टी पंचायत के प्रधान राजेन्द्र सिंह चौहान व ग्राम पंचायत ननखड़ी की प्रधान सरोजिनी मेहता का कहना है कि इस सड़क की दशा खमाडी से आगे दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है। विभाग की तरफ से कोई भी ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। इस समय सेब का सीजन भी चल रहा है जोकि पूरी तरह से प्रभावित हो चुका है। यह मार्ग बंद हो जाने की वजह से सेब से लदी गाडि़यां सड़कों पर खड़ी हो गई हैं जिन्हें बागवानों ने मंडियों तक पहुंचाना है। पंचायत समिति अध्यक्ष ननखड़ी सुरजीत ठाकुर का कहना है कि इस मार्ग की ड्रेनेज व कलवट पूरी तरह से बंद पड़ी हुई हैं। पूनन गांव के साथ ऊपरी हिस्से से भूस्खलन के कारण मिट्टी व पत्थर पड़े हुए हैं। इस ढेर को अभी तक नहीं उठाया गया है। पूरे क्षेत्र में बारिश के कारण बिजली व पानी का संकट भी खड़ा हो गया है। इसकी सप्लाई पूरी तरह से ठप्प हो जाने से लोगों को और भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लोक निर्माण विभाग  के अधिशाषी अभियंता रामपुर डीवीजन संदीप सोपती का कहना है कि टिक्कर खमाडी सड़क को जल्द से जल्द बहाल कर दिया जाएगा।