टोक्यो खेलें टलने से जगी ओलंपिक उम्मीद 

नई दिल्ली - टोक्यो ओलंपिक के स्थगित होने से चोटों से परेशान भारतीय जिमनास्ट दीपा कर्मकार के लिए उम्मीद की किरण जगी है, जो ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई करने के मौके का फायदा उठाने की तैयारी में जुटी हैं। दीपा घुटने की चोट के कारण कट में प्रवेश करने का मौका चूक गई थीं। 2016 रियो ओलंपिक में चौथे स्थान पर रहने वाली दीपा ने 2017 में घुटने की सर्जरी कराई और 2018 में उनकी वापसी थोड़े समय तक ही रही, क्योंकि पिछले साल बाकू में कलात्मक जिमनास्टिक्स विश्व कप में इस चोट ने उन्हें फिर परेशान करना शुरू कर दिया। उन्हें दोहा विश्व से भी हटना पड़ा और 2019 में अक्तूबर में हुई विश्व कलात्मक जिमनास्टिक्स चैंपियनशिप के लिए समय पर उबर नहीं सकीं। दीपा ने कहा, आठ विश्व कप थे, लेकिन अब केवल दो ही बचे हैं, जिन्हें मार्च में कराया जाना था लेकिन कोरोना वायरस के कारण अब इन्हें जून तक स्थगित कर दिया गया है मौजूदा हालात को देखते हुए ये शायद अगले साल होंगे। इससे मुझे उबरने के लिए और इन दो टूर्नामेंट की तैयारी करने के लिए काफी समय मिल जाएगा।

Related Stories: