Saturday, July 04, 2020 04:49 PM

ट्रांसफार्मर में धमाका, टीवी-फ्रिज जले

धर्मपुर -उपमंडल की सरसकान पंचायत के तड़ा स्थित ट्रांसफ ार्मर के अधीन आने वाले उपभोक्ता मामूली बूंदाबांदी में भी बिजली गुल होने की समस्या तो गत एक दशक से झेल ही रहे थे, लेकिन गत शनिवार बिजली आफ त बनकर आई और ग्रामीणों के लाखों रुपए का इलेक्ट्रानिक सामान जला कर चली गई। ट्रांसफार्मर में इतना जोरदार धमाका हुआ कि लोगों के घरों में टीवी, फ्रिज, पंखे, चार्जर, बल्ब और गीजर स्वाह हो गए। लोगों को बार-बार बिजली गुल होने का गुस्सा तो पहले ही था, लेकिन अब लाखों का नुकसान आग में घी का काम कर गया। ग्रामीणों ने इस नुकसान की भरपाई विद्युत विभाग से मांगी है। इनका कहना है कि उपभोक्ता नाना प्रकार के टैक्स और रेंट हर महीने भरते हैं। उपभोक्ताओं का कहना है कि इस धमाके की वजह से करीब आधा दर्जन परिवारों को लाखों का नुकसान हुआ है, जिसमें टीवी, फ्रिज, गीजर, पंखे, चार्जर और अन्य उपकरण शामिल हैं। चार्जर फटने से एक लड़की पर चिंगारियां गिरीं, जिससे वह दहशत में है। सरसकान के चमारू राम, सतीश ठाकुर, संजय कुमार, केसर सिंह तथा जगदीश चंद, बालम राम और जितेंद्र ठाकुर सहित कई ग्रामीणों को लाखों की चपत लगी है। वहीं रविवार को भुरका गांव की सत्या ठाकुर, राजेंद्र कुमार आदि के टीवी, फ्रिज और पंखे जल जाने से हजारों का नुकसान हो गया। तीन दशक पहले इंस्टाल किए गए इस ट्रांसफार्मर की हालत दयनीय है और जुगाड़ करके काम चलाया जा रहा है। जब भी हल्की बूंदाबांदी या तूफ ान होता है तो खाहला पंचायतों के दर्जनों गांवों में अंधेरा पसर जाता है। चूंकि यह ट्रांसफ ार्मर अन्य ट्रांस्फार्मर्ज को भी फीड करता है इसलिए हजारों की आबादी परेशानी झेलने को मजबूर है। उपभोक्ताओं ने मांग की है कि उनके नुकसान की भरपाई बिजली बोर्ड करे और भविष्य में ऐसा फिर से न हो, ऐसी व्यवस्था की जाए। विद्युत विभाग के अधिशाषी अभियंता विवेक धीमान का कहना है कि क्षेत्र में 132 केवी का निर्माण कार्य चला हुआ है जो करीब डेढ़ साल में मुकम्मल हो जाएगा। इसके बाद लोगों की यह समस्या पूरी तरह से खत्म हो जाएगा। फिलहाल इस दिक्कत के हल का भी प्रयास किया जाएगा।