ठंड में खाएं ये आहार

ठंड के मौसम में सर्दी के असर से बचने के लिए लोग गर्म कपड़ों का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन शरीर को चाहे कितने ही गर्म कपड़ों से ढक लिया जाए, ठंड से लड़ने के लिए बॉडी में अंदरूनी गर्मी होनी चाहिए। सर्दियों के मौसम में सर्द हवाएं अपने साथ कई तरह की बीमारियां साथ लेकर आती हैं, इस मौसम में कई तरह की परेशानियां सामने आती हैं, जिससे बच पाना काफी मुश्किल होता है। सर्दियों में यदि खान-पान पर विशेष ध्यान दिया जाए, तो शरीर संतुलित रहता है। इसलिए आज हम आपके लिए प्रकृति का ऐसा उपहार लेकर आए हैं, जो आपकी इन समस्याओं से लड़ने में मदद करेगा।  

गाजर- गाजर में बीटा कैरोटिन होता है, जिसे शरीर विटामिन ए में तबदील कर देता है। विटामिन ए प्रतिरोधक प्रणाली के लिए, संक्रमण से बचाने के लिए और फेफड़ों को स्वस्थ रखकर सांस की बीमारियों को कम करने में मददगार है। लहसुन- लहसुन खाने के स्वाद को बढ़ाने के साथ ही कई गुणों से भरपूर है। इसमें कैलोरी काफी कम होती है साथ ही यह फाइटोन्यूट्रिएंट एनिथोल से भरपूर होता है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मददगार है। सर्दियों में ही नहीं, बल्कि किसी भी मौसम में यह आपकी सुरक्षा कवच के रूप में काम करता है।

हल्दी- एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटी वायरल के तौर पर यह शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने में मददगार है। रोजाना अगर हल्दी को गर्म दूध में डालकर लिया जाए, तो ये और भी ज्यादा फायदेमंद साबित होती है। सर्दियों के मौसम में इसका इस्तेमाल आपको कई बीमारियों से बचाता है।

चुकंदर- चुकंदर में लाभवर्द्धक फाइटोकेमिकल्ज और एंटीऑक्सीडेंट्स प्रचुर मात्रा में होते हैं, जो स्वस्थ कोशिकाओं और उनके डीएनए को नुकसान पहुंचाने वाले मुक्त कणों से लड़ने में मदद करते हैं और प्रतिरक्षा प्रणाली को भी सुदृढ़ बनाते हैं।

अश्वगंधा की जड़- अश्वगंधा की जड़ पारंपरिक भारतीय चिकित्सा पद्धति में कारगार आयुर्वेदिक दवा के रूप में प्रयोग की जाती है। यह एक ऐसी जड़ी-बूटी है, जो शारीरिक ऊर्जा सुधारने में, खिलाडि़यों की क्षमता बढ़ाने में, रोग प्रतिरोधक क्षमता सुधारने और प्रजनन क्षमता बढ़ाने में काफी कारगर मानी जाती है।

बादाम- बादाम कई गुणों से भरपूर होते हैं। इसका नियमित सेवन अनेक बीमारियों से बचाव में मददगार है। अकसर माना जाता है कि बादाम खाने से याददाश्त बढ़ती है, लेकिन यह ड्राई फ्रूट अन्य कई रोगों से हमारी रक्षा भी करता है। इसके सेवन से कब्ज की समस्या दूर हो जाती है, जो सर्दियों में सबसे बड़ी दिक्कत होती है। बादाम में डायबिटीज को निंयत्रित करने का गुण होता है। शहद- शरीर को स्वस्थ, निरोग और ऊर्जावान बनाए रखने के लिए शहद को आयुर्वेद में अमृत भी कहा गया है।  सर्दियों में तो शहद का उपयोग विशेष लाभकारी होता है। 

तिल- सर्दियों के मौसम में तिल खाने से शरीर को ऊर्जा मिलती है। तिल के तेल की मालिश करने से ठंड से बचाव होता है।  

Related Stories: