Friday, October 18, 2019 05:29 PM

डा. बृज लाल लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में

खुंब अनुसंधान निदेशालय के प्रधान वैज्ञानिक को एक ही पौधे पर 865 फूल खिलाने पर मिला इनाम

सोलन - खुंब अनुसंधान निदेशालय (डीएमआर) चंबाघाट सोलन की उपलब्धियों में एक और तमगा शामिल हो गया है। निदेशालय में कार्यरत प्रधान वैज्ञानिक डा. बृज लाल अत्री का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज हुआ है। उनका यह नाम गेंदे के एक ही पौधे पर 865 फूल खिलने के कारण शामिल हुआ है। उनका नाम इस प्रतिष्ठित लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज होने पर डीएमआर में खुशी की लहर है और उन्हें बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। बता दें कि डा. बृज लाल अत्री ने मुक्तेश्वर, नैनीताल (उत्तराखंड) में 2015 में अपने बागीचे में गेंदे के फूल उगाए। उनके द्वारा उगाए गए गेंदे के एक ही पौधे पर 865 फूल खिलने के कारण उनका नाम लिम्का बुक ऑफ  रिकार्ड में शामिल किया गया है। अच्छी देखभाल व समय-समय पर सिंचाई एवं उर्वरकों के कारण इन फूलों में से एक पौधे का आकार बहुत बड़ा हो गया और इस पौधे में 865 फूल खिले, जो कि एक रिकार्ड था। डा. अत्री ने इसे लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड्स, गुड़गांव (हरियाणा) भेजा, जो 2017 के रिकार्ड्स में शामिल कर लिया गया, जिसका प्रमाण पत्र उन्हें हाल ही में प्राप्त हुआ है।  उनकी इस उपलब्धि पर डीएमआर चंबाघाट में खुशी का माहौल है और सभी उन्हें बधाई दे रहे हैं। डीएमआर निदेशक डा. वीपी शर्मा ने कहा कि यह निदेशालय के लिए भी गौरव की बात है कि प्रधान वैज्ञानिक डा. बृज लाल अत्री की उपलब्धि को प्रतिष्ठित लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में स्थान मिला है। डा. शर्मा ने उन्हें बधाई देते हुए अपनी शुभकामनाएं दी हैं।