Tuesday, August 20, 2019 01:32 PM

डिपुओं में तेल के साथ गायब हुईं दालें

हमीरपुर -सस्ते राशन की दुकानों से तेल के साथ-साथ दालें भी गायब हो गई हैं। अधिकतर राशनकार्ड धारकों को अगस्त माह में एक दाल से ही संतुष्ट होना पड़ा है। राशनकार्ड धारक भी आधा-अधूरा राशन मिलने से परेशान हैं। उन्हें इस बार भी बाजार से महंगे दामों पर राशन खरीदना पड़ रहा है। बता दें कि हमीरपुर जिला के राशनकार्ड धारकों को इस माह तेल नहीं मिल पाया है। हालांकि अधिकतर राशनकार्ड धारकों को दालों में सिर्फ दाल चना से ही संतुष्ट होना पड़ा है। राशनकार्ड धारक भी आधा-अधूरा राशन मिलने से खासे परेशान हैं। उन्हें बाजार से हर माह महंगे दामों पर तेल व दालें खरीदनी पड़ रही है। किसानों को साढ़े पांच किलो चावल और साढ़े 12 किलो आटा प्रति कार्ड दिया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो दालों के टेंडर देरी से होने से यह दिक्कत आई हैं। हालांकि तेल के टेंडर भी हो चुके हैं, ऐसे में जल्द ही दालों व तेल की खेप हमीरपुर पहुंचने की उम्मीद है। बताया जा रहा है कि राशनकार्ड धारकों को जुलाई माह में भी दालों से बंचित रहना पड़ा था। ऐसे में महंगाई के दौर में इतने कम राशन में राशनकार्ड धारकों को रसोईघर का खर्च निकालना दिन-प्रतिदिन मुश्किल हो रहा है। क्योंकि आधे-अधूरे राशन ने लोगों की दिक्कतें बढ़ा दी हैं। डिपुओं में कभी दालें गायब तो कभी तेल गायब हो जाता है। उन्हें लंबे समय से पूरा राशन एक साथ नहीं मिल पाया है।