Thursday, November 26, 2020 05:59 PM

डिपोधारकों को एक लाख 35 हजार जुर्माना

जमाखोरी-मुनाफाखोरी पर दो लाख 45 हजार से अधिक जुर्माना, खाद्य आपूर्ति विभाग ने कसा शिकंजा  

धर्मशाला-जनता को राशन डिपो पर बेहतर सुविधाएं देने के लिए चल रही प्रयासों के बीच गड़बड़ करने वालों पर भी विभाग ने शिकंजा कस दिया है। जिला में गड़बड़ करने वाले डिपो धारकों को एक लाख 35 हजार से अधिक जुर्माना किया है। जिला में चार लाख 42568 से अधिक उपभोक्ता पंजीकृत है। जमाखोरी व मुनाफाखोरी पर दो लाख 45 हजार से अधिक जुर्माना किया है। एडीसी ने विभाग व सभी डिपो धारकों को उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधाएं देने के निर्देश दिए हैं। अतिरिक्त उपायुक्त राहुल कुमार ने कांगड़ा जिला में सार्वजनिक वितरण प्रणाली को और मजबूत बनाने पर जोर दिया है।

राहुल कुमार बुधवार को जिला स्तरीय सर्तकता समिति व सार्वजनिक वितरण प्रणाली को लेकर आयोजित समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे।  एडीसी ने कहा कि कांगड़ा जिला में 1070 उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से 442568 राशन कार्ड धारकों को आवश्यक वस्तुओं का वितरण किया जा रहा है। इनमें बीपीएल, एपीएल, अंत्योदय अन्न योजना, प्राथमिक गृहस्थियां एवं अन्नपूर्णा योजना के तहत आने वाले लाभार्थी शामिल हैं। अंतोदय राशन कार्ड धारकों को 18.800 किलोग्राम गंदम 3.20 रुपए किलो और 15 किलो चावल तीन रुपए किलो की दर से प्रत्येक राशन कार्ड पर उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। एडीसी ने कहा कि उपभोक्ताओं को उच्च गुणवत्ता की वस्तुएं उपलब्ध करवाने लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। गुणवत्ता निगरानी के लिए बीते तीन महीनों में जिला में 2027 औचक निरीक्षण किए गए, जिनमें 86 मामलों में अनियमितताएं पाई गई है। इसमें से 18 उचित मूल्यों की दुकानों व थोक केंद्रों में अनियमितताएं पाए जाने पर 135654 रुपए जुर्माना वसूला गया। इस दौरान चार घरेलू एलपीजी सिलेंडर भी जब्त किए गए व 24 दुकानदारों के पास प्रतिबंधित पोलिथीन पाए जाने पर 22500 रुपए तथा जमाखोरी एवं मुनाफाखोरी व अन्य कुल 28 मामलों पर 245507 रुपए जुर्माना वसूल कर सरकारी कोष में जमा करवा दिया गया है।

उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के साथ-साथ बाजार में उपलब्ध खाद्य वस्तुओं की गुणवत्ता की भी समय-समय पर जांच करते रहें, जिससे उपभोक्ताओं को उचित मूल्य पर गुणवत्तापरक वस्तुएं प्राप्त हों।  जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक नरेन्द्र धीमान ने बैठक का संचालन किया तथा विभाग द्वारा चलाई जा रही विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी। इस अवसर पर निरीक्षक रोहित ठाकुर, मनमोहन गर्ग, राहुल शर्मा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। राहुल कुमार ने कहा कि जिला में कुल 35 गैस एजेंसियों के माध्यम से कुल 529362 पंजीकृत उपभोक्ताओं को एलपीजी की आपूर्ति की जा रही है। जिला में कार्यरत सभी गैस एजेंसियों के लिए एलपीजी सिलेंडरों के वितरण हेतु रूट चार्ट अधिसूचित करवाया गया है तथा सभी गैस एजेंसियों को निर्धारित रूट चार्ट के अनुसार एलपीजी सिलेंडरों का वितरण करने के निर्देश दिए गए हैं।

The post डिपोधारकों को एक लाख 35 हजार जुर्माना appeared first on Divya Himachal.