Monday, August 26, 2019 11:42 AM

डिसप्ले बोर्ड से सब्जियों के रेट गायब

सुंदरनगर —सुंदरनगर उपमंडल में सब्जियों व फलों के दाम के बोर्ड खाली है, जिससे सब्जी विके्रता उपभोक्ताओं को लूट रहे हैं और प्रशासन आंखें मंूदकर बैठा हुआ है। मिनी सचिवालय और एस जीरो चौक पर लगा बोर्ड बिना सब्जी के दाम के उपभोक्ताओं के मुंह चिढ़ा रहा है। वहीं दूसरी ओर महंगाई के इस युग में सब्जियों व फलों के दाम आसमान छू रहे हैं, तो दूसरी ओर सब्जी विके्रता भी बिना  रेट लिस्ट के खाद्य वस्तुएं उपभोक्ताओं को मनमाने दाम पर बेचकर सरेआम लूट रहे हैं। जबकि वर्तमान मंे रविवार को सुंदरनगर के बाजार में सब्जी व फलों में खीरा 30 से 40, घीया 30, करेला 40, फ्रांसबीन 40 से 50, तोरी 50, परोड़ 50 से 60, कद्दू 30, केला 60 से 70 रुपए दर्जन, आम 100, आलू 30, प्याज 30, टमाटर 40 से 50, फूलगोभी 40, बंद गोभी 40, बैंगन 30, नाशपाती 40, भिंडी 40 से 50, नींबृू 160, लिंगड 20 से 30, शिमला मिर्च 60 से 70, मूली 30, अरबी 60 से 70, सेब 200, लहुसन 200, आडू 30 से 40, चुलाई 10 रुपए बंडल, धनिया 200 रुपए है। उपभोक्ताओं का कहना है कि रेट लिस्ट न लगने से वे स्वयं को ठगा सा महसूस कर रहे हंै। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि जहां सब्जी व फलों के दाम को प्रकाशित करने के लिए बोर्ड लगाए गए हैं, प्रशासन उन्हें रोजाना ताजा दाम के हिसाब से अपटेड करवाए, ताकि उपभोक्ताओं से जारी लूट पर विराम लग सके। उन्होंने बताया कि खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के निरीक्षक तो शायद निरीक्षण करने का रास्ता ही भूल गए हैं, जिसके कारण सब्जी व फल विके्रताओं के हौसले दिनोंदिन बढ़ते जा रहे हैं। उधर, एसडीएम राहुल चौहान का कहना है कि बिना रेट लिस्ट लगाए खाद्य वस्तुएं बेचना कानूनन गलत है। निरीक्षण के दौरान अगर कोई विके्रता ऐसा करते हुए पाया गया तो उसके खिलाफ विभागीय नियमों के तहत कार्रवाई अमल मंे लाई जाएगी।