Monday, September 23, 2019 01:46 AM

तबाही की बारिश…नेरवा में बहे दो बच्चे

शेष विश्व से कटा चौपाल-नेरवा क्षेत्र; सडकें अवरूद्व, बिजली-पानी ठप, दूरसंचार सेवा भी चरमराई

शिमला -जिला शिमला मंे मूसलाधार बारिश ने कहर बरपाया है। बीेते दिनों के दौरान हुई भारी बारिश से जिला में जन जीवन की रफ्तार थम सी गई है। भारी बारिश के बाद चौपाल-नेरवा क्षेत्र का संपर्क शेष विश्व से कट गया है। चौपाल को शिमला व पावंटा से जोडने वाले मार्ग अवरुद्ध होे गए है। मुख्य मार्गों के साथ-साथ चौपाल में संपर्क मार्ग भी भूस्खलन से बंद पड़ गए हैं। बारिश  से क्षेत्र में बिजली पानी सेवा भी पूरी तरह से चरमरा गई है। ऐसे में जनता को मूलभूत सुविधाओं के लिए तरसना पड रहा। यहीं आलम जिला शिमला के ऊपरी क्षेत्रों में भी बना हुआ है। जिला शिमला में अधिकतर क्षेत्रों मंे बीते शनिवार रात के समय मूसलाधार बारिश हुई थी। जिससे जिला शिमला मेें भारी नुकसान हुआ था। बारिश के चलते चौपाल नेरवा के मुख्य मार्गो सहित अधिकांश संपर्क मार्ग वाहनों की आवाजाही के लिए ठप्प पड गए है। नेरवा में बारिश के कारण दर्जनों मकान क्षति ग्रस्त हो गए हैै। मकानों के घिरने से कई लोग बेघर हो गए है। नेरवा में दूरसचांर सेवा भी बाधित चल रही है। नदी नालोें के उफान पर होने से स्थानीय  लोग सहमे हुए है। इसके अलावा जिला शिमला के नारकंडा, ठियोग, कुमारसैन व रोहडू में बारिश के कारण काफी नुकसान हुआ हैै। भू-स्खलन होने से अधिकतर सम्पर्क मार्ग वाहनों की आवाजाही के लिए बंद पडे हुए हैं, जो लोगों के लिए परेशानियों का सबब बना हुआ है।

शिमला में कई स्थानों पर गिरे पेड़

शिमला में बारिश के कारण पेडों के गिरने का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। शिमला में रविवार रात को भी कई स्थानों पर पेड गिरे है। शिमला में बीते दिनेां के दौरान भारी बारिश हुई थी, जिससे शहर में खतरा बने पेड़ गिरने लगे हैं। इसके अलावा शहर में भारी बारिश से भूस्खलन का क्रम भी जारी है। जिससे भवनों को खतरा पैदा हो गया है।

जिला शिमला में 300 से अधिक सडकें बंद

जिला शिमला मंे भारी बारिश से 300 से अधिक मार्ग अवरुद्ध पडे़ हुए हैं। हालांकि मार्गों को बहाल करने का कार्य युद्व स्तर पर किया जा रहा है। मगर जगह जगह भू-स्खलन होने से अवरुद्ध मार्गों को बहाल करना लोक निर्माण विभाग के लिए चुनौती बन गया है। मार्ग अवरुद्ध होने से जिला में एचआरटीसी सेवा ठप पडी हुई हैै।

नेरवा में दो बच्चों की बहने से मौत

जिला शिमला मंे बारिश से मौत का आंकडा 12 तक पहुुंच गया है। नेरवा मंे शकराना नालेे में दो बच्चों की बहने से मौत हो गई है। जिनके शव बरामद कर लिए गए हैं। जिला शिमला में बीते रविवार बारिश से 10 लोगांे की मौत हो गई थी। अब यह आंकडा 12 तक पहुंच गया है।