Monday, September 16, 2019 07:34 AM

तबाही की बारिश… 59 पेयजल स्कीमें ठप

बिलासपुर में आईपीएच विभाग को पांच करोड़ की चपत, कुठेड़ा-सीर खड्ड-जुखाला मंे सबसे ज्यादा नुकसान

बिलासपुर -मूसलाधार बारिश से सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग बिलासपुर को पांच करोड़ रुपए का भारी नुकसान हुआ है। आईपीएच विभाग की 59 स्कीमें बारिश की वजह से प्रभावित हुई हैं। जबिक दस स्कीमें विभाग द्वारा सुरक्षित कर ली गई हैं। कुछ स्कीमों में गाद आ गई, इस कारण मशीनरी ने काम करना बंद कर दिया है। वहीं, कई पेयजल योजनाओं के पास डंगे आदि बह गए हैं। बारिश के कारण सीवरेज की नालियां भी धवस्त हो गई। आईपीएच विभाग बिलासपुर के अधिशाषी अभियंता ई. अरविंद वर्मा ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि कुठेड़ा, सीर खडड्, जुखाला आदि क्षेत्र की स्कीमों को सर्वाधिक नुकसान पंहुचा है। लिहाजा पेयजल स्कीमों के ठप हो जाने से लोगों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। जिला में हुई भारी बारिश आईपीएच विभाग के लिए आफत बनकर बरसाी है। मूसलाधार बारिश से आईपीएच विभाग का करोड़ों का नुकसान हुआ है। आईपीएच विभाग की 59 स्कीमें बारिश की वजह से बुरी तरह से प्रभावित हुई है। यह पेयजल योजनाएं जगह-जगह से क्षतिग्रस्त हुई है। वहीं, आईपीएच विभाग के कर्मचारी युद्ध स्तर पर इन स्कीमों को दुरूस्त करने के लिए डट गए हैं। जानकारी के अनुसार उक्त पेयजल योजनाओं को सुचारू करने के लिए अभी दो सप्ताह तक का समय लग सकता है। इस कारण संबंधित क्षेत्रों के लोगों को पेयजल की भारी समस्या का सामना करना पड़ेगा। हालांकि विभाग द्वारा लघु पेयजल योजनाओं को सुचारू किया जा रहा है। मगर फिर भी स्कीमों से जुड़े कई गांवों के लोगों को पेयजल समस्या का सामना करना पड़ेगा। कई गांवों में भी पेयजल योजना की पाइप लाइनें जगह-जगह से टूट गई हैं, जिसकी मरम्मत के लिए विभाग ने कमर कस ली है। अधिशाषी अभियंता ई. अरविंद वर्मा ने बताया कि भारी बारिश के कारण बिलासपुर की 59 पेयजल योजनाएं बुरी तरह से प्रभावित हुई है। वहीं, बारिश से पेयजल स्कीमों के प्रभावित होने से आईपीएच महकमे को करोड़ों का नुकसान हुआ है।