Saturday, August 15, 2020 01:14 PM

तिब्बती कालोनी होम क्वारंटाइन

कोरोना का ग्रास बने तिब्बती के साथ होटल में रुके थे चार लोग, प्रशासन की निगरानी में सभी

डलहौजी - पर्यटन नगरी डलहौजी में प्रशासन ने बकरोटा में स्थित तिब्बती कालोनी में रहने वाले तिब्बती समुदाय के लोगों को होम क्वारंटाइन में रखा है। प्रशासन ने यह कदम गत अठारह मार्च को विदेश से डलहौजी लौटे तिब्बती मूल के चार लोगों के कारण उठाया है। विदेश से लौटे तिब्बती मूल के लोगों में दो पुरुष, एक महिला व एक बच्चा शामिल है। अहम है कि यह चारों लोग दिल्ली के उसी होटल में ठहरे थे, जहां कोरोना वायरस की चपेट में आकर मौत का ग्रास बना मकलोडगंज का तिब्बती भी ठहरा हुआ था। ऐसे में इन लोगों के डलहौजी पहुंचने पर प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग विशेष रूप से सतर्क हो गया था। इन चारों लोगों की स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वास्थ्य जांच की गई है। फिलहाल इन लोगों में कोरोना वायरस के कोई संदिग्ध लक्षण नहीं पाए गए हैं। बतातें चलें कि इससे पूर्व विदेश से लौटे 11 लोग पहले से ही होम क्वारंटाइंन में हैं। इन सभी लोगों की स्वास्थ्य विभाग द्वारा जांच की जा रही है। उधर, एसएमओ डा. विपिन ठाकुर ने बताया कि अभी तक यहां इन लोगों में संदिग्ध लक्षण नहीं आए हैं, जबकि एहतियात के तौर पर विभाग पूरी तरह सतर्क है और स्थिति पर नजर रखी जा रही है।

अब 11 से दो बजे तक मिलेगी कर्फ्यू में ढील

चंबा। कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने को लेकर सामाजिक दूरी जैसी एहतियात और लोगों की आवाजाही को पूरी तरह से प्रतिबंधित रखने के उद्देश्य से चंबा जिला में धारा-144 के तहत जारी कर्फ्यू के दौरान ढील देने की अवधि में प्रदेश सरकार के निर्देशों के बाद एक बार फिर से फेरबदल किया गया है। अब लोगों को आवश्यक खाद्य वस्तुएं खरीदने और आवश्यक सेवाओं जैसे बैंक, एटीएम व पेट्रोल पंप इत्यादि के लिए 11 बजे से लेकर दोपहर दो बजे तक का समय निर्धारित किया गया है। आदेश की अवहेलना करने पर भारतीय दंड संहिता की धारा-188 के अलावा 269 और 270 के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उल्लेखनीय है कि गत रोज प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर जारी कर्फ्यू में सवेरे सात से दोपहर दो बजे तक ढील देने के निर्देश जारी किए गए थे। शुक्रवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्रदेश के विभिन्न उपायुक्तों के संग बैठक कर इसकी समीक्षा के बाद इस अवधि को तीन घंटे करने के आदेश जारी किए। इस अवधि को तय करने की जिम्मेदारी संबंधित जिला के उपायुक्त को सौंपी गई हैं। इसके बाद उपायुक्त चंबा ने जिला में सवेरे 11 से दोपहर दो बजे तक कर्फ्यू में ढील देने के आदेश दिए हैं। उधर, उपायुक्त एवं जिला मजिस्ट्रेट विवेक भाटिया ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग यानी सामाजिक दूरी अत्यंत आवश्यक है।