Saturday, July 04, 2020 12:06 PM

तीन पेयजल योजनाओं पर खर्च होंगे 40 करोड़ रुपए

बिलासपुर-सदर विधानसभा क्षेत्र के लिए जल जीवन मिशन के तहत तीन योजनाएं स्वीकृत हुई हैं। जिन पर 40.13 करोड़ रुपए व्यय करने का प्रावधान है। इन योजनाओं के तहत एक पेयजल योजना (बिलासपुर विधानसभा क्षेत्र के तहत हर घर को नल से जल) का कार्य आबंटित कर दिया गया है। जिस पर लगभग 15 करोड़ रुपए व्यय किए जाएंगे। विधायक सुभाष ठाकुर ने बताया कि इस योजना के तहत विधानसभा क्षेत्र की 17 पेयजल योजनाओं का संवर्धन व सुधार किया जाएगा। योजना के तहत 105 बस्तियों की 37314 जनसंख्या को सुचारू रूप से पेयजल सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। इस योजना के तहत 1524 घरों में विभाग द्वारा हर घर को नल योजना के तहत नल लगाने का प्रावधान किया गया है। इसके अतिरिक्त दूसरी योजना जिसमें (सदर विधानसभा क्षेत्र की सात पेयजल योजनाओं) (ग्राम पंचायत बरमाणा, बैरी रजादियां, दयोली, धार टटोह, पंजगाईं, धौन कोठी व हरनोडा) का कोलडैम से सम्बर्धन व सुधार के कार्य करने का प्रावधान है। इस पर लगभग 24 करोड़ रुपए की स्वीकृत किए जाएंगे, जिसकी टेंडर प्रक्रिया अंतिम चरण में है। इस योजना के तहत क्षेत्र की 22935 जनसंख्या लाभान्वित होगी व इस योजना के तहत 1347 घरों में विभाग द्वारा हर घर को नल योजना के तहत नल लगाने का प्रावधान है। इसके अतिरिक्त जन जीवन मिशन के तहत द्वितीय चरण में चार योजनाओं की स्वीकृति लगभग 11 करोड़ रुपए की हुई है, जिनकी प्रशासनिक व्यय एवं अनुमोदन स्वीकृति आपेक्षित है। नाबार्ड के तहत सदर विधानसभा क्षेत्र में विभन्न स्थानों पर 25 नंबर भंडारण टैंकों व छह नंबर ओवर हैंड टैंकों का कार्य दो करोड़ 25 लाख रुपए की स्वीकृति हुई है, जिस कार्य प्रगति पर है। उन्होंने बताया कि बिलासपुर शहर की पेयजल योजना के सुधार के लिए लगभग 110 लाख रुपए की योजना एससीएसपी के तहत स्वीकृत हुई है, जिसका कार्य 50 प्रतिशत पूर्ण कर लिया गया है। वहीं, उठाऊ पेयजल योजना एम्स व हाईड्रो इंजीनियरिंग कालेज बंदला का निर्माण कार्य आवंटित कर दिया गया है व कार्य शीघ्र ही शुरू कर दिया जाएगा तथा इस पर लगभग छह करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।