Saturday, September 21, 2019 04:46 PM

तीन साल से अमरपुर का भवन अधूरा

घुमारवीं -बजट के अभाव में अमरपुर स्कूल के भवन तथा मैदान का काम लटक गया है। आलम यह है कि तीन साल बाद भी यह भवन अभी तक निर्माणाधीन है। इससे स्कूल के बच्चों को दिक्कतें झेलनी पड़ रही है। एसएमसी ने स्कूल में पढ़ाई कर रहे बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए भवन व मैदान का कार्य शीघ्र पूरा करने की मांग की है। जानकारी के मुताबिक अमरपुर स्कूल में अनुसूचित जाति उपयोजना के तहत चार कमरों व एक परीक्षा हाल तथा खेल मैदान का निर्माण किया जा रहा है। बजट के अभाव में वर्ष 2016 से शुरू इसका काम तीन साल बाद भी अधूरा पड़ा है। काम अधूरा रहने के कारण अधूरे स्कूल मैदान में कीचड़ पसरा रहता है। इससे बच्चों की एक्टिविटीयां भी प्रभावित हो रही है। बताया जा रहा है कि वर्ष 2017 में स्कूल भवन व मैदान के लिए करीब 21 लाख 56 हजार रुपए जारी हुए हैं। लेकिन, इसके बाद कोई भी धनराशि इसके निर्माण के लिए नहीं पहुंची। काम अधिक व बजट कम मिलने के कारण स्कूल भवन व मैदान का काम अधर में लटक गया है। मैदान में कीचड़ रहने से बच्चों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। जमा एक व जमा दो की कक्षाएं दूसरे भवन में चलती है। जिसके कारण बच्चों तथा शिक्षकों को आर-पार जाना पड़ता है। लेकिन, स्कूल मैदान का कार्य अधूरा होने के कारण यहां से गुजरना बच्चों के लिए मुश्किल होता है। स्कूल प्रबंधन समिति के प्रधान बिट्टू राम धर्माणी, बिहारी लाल, संतोष, अनिता, शीला, सत्या देवी, प्रवीण, रचना, सीमा, पवन व सुभाष सहित अन्यों ने बताया कि इस समस्या को उन्होंने घुमारवीं में आयोजित हुए जनमंच में भी उठाया था। लेकिन, अभी तक समस्या का समाधान नहीं हो पाया है। स्कूल प्रबंधन समिति ने सरकार व संबंधित विभाग से अमरपुर स्कूल में अधूरे पड़े भवन  व मैदान का कार्य पूरा करने की मांग की है। जिससे स्कूल में पढ़ाई करने वाले बच्चों को दिक्कतें न झेलनी पड़े। उधर,लक्ष्मण सिंह ठाकुर प्रिंसीपल अमरपुर स्कूल का कहना है कि स्कूल में कार्यभार संभालने के बाद शीघ्र ही इस बारे में सरकार व विभाग से पत्राचार किया है।