Monday, September 16, 2019 08:06 AM

त्रिलोकपुर में दरकने लगी पहाड़ी

जवाली -जवाली उपमंडल के अंतर्गत ग्राम पंचायत त्रिलोकपुर के नियांगल वन के सोलदा बीट में दो दिन लगातार हुई मूसलाधार बारिश से फिर से पहाड़ी खिसकना शुरू हो गई। गनीमत रहे वर्ष 2013 में इसी पहाड़ी से कई स्थानीयवासियों को भारी नुकसान हुआ था। जिसमें कई घर इस भू-स्खलन में दब गए थे। रविवार को फिर इस पहाड़ी का खिसकना शुरू हुआ जिससे चिंतित होकर स्थानीयवासियों ने पंचायत प्रधान उषा गुलेरिया को मौके पर बुलाया, जिसे गंभीरता से लेते हुए पंचायत प्रधान उषा गुलेरिया ने विधायक अर्जुन ठाकुर को इस बारे सूचना दी। विधायक अर्जुन ठाकुर ने तुरंत कार्रवाई करते हुए एसडीएम जवाली अरुण शर्मा को मौके पर जाने का आदेश दिया जो कि शाम करीब चार बजे एसडीएम अरुण शर्मा अपने प्रशासनिक अधिकारियों सहित मौके पर गए, जिसमें उन्होंने बताया कि यह स्लाइडिंग अभी रिहायशी इलाके से तकरीबन 400 मीटर दूर है जो कि धीरे-धीरे आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि यदि यह स्लाइडिंग आगे आती है तो इससे तकरीबन 25-30 घरों को खतरा हो सकता है, जिस कारण सभी स्थानीयवासियों को रात को अलर्ट रहने के लिए कहा गया। इसके साथ ही उन्होंने पुलिस विभाग को हर समय खतरे को भांपने के लिए  अलर्ट रहने के लिए निर्देश दिए। एसडीएम अरुण शर्मा ने कहा कि यदि कल तक यह स्लाइडिंग नहीं रुकती है तो विभाग द्वारा इसकी जद्द में आने वाले घरों को खाली करवा दिया जाएगा। स्थानीय वासी के एक सवाल के उत्तर में एसडीएम अरुण ने कहा कि वर्ष 2013 में जो मकान स्थानीयवासियों के स्लाइडिंग में दवे हैं और जो बेघर हुए हैं उन्हें इनसाफ दिलाने के लिए विधायक अर्जुन ठाकुर ने प्रमुखता से लिया है और विभाग द्वारा उनके केस बना कर उच्च विभाग को भेज दिए गए हैं। जैसे ही विभाग की अनुमति मिलती है तो पीडि़त परिवारों को भूमि वितरित कर दी जाएगी।