Tuesday, March 31, 2020 08:04 PM

दिल्ली के चांदबाग में फिर हिंसा: चार इलाकों में कर्फ्यू, ड्रोन से होगी निगरानी

 दिल्ली - नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसक प्रदर्शन लगातार जारी है। मंगलवार शाम को भी चांदबाग इलाके में एक बार फिर से हिंसा भड़क गई। उपद्रवियों ने आगजनी और तोड़फोड़ किया है। हिंसा में अब तक एक पुलिसकर्मी समेत कुल 10 लोगों की मौत हुई है। दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि हिंसा में 56 पुलिसकर्मियों को चोट आई है। 130 नागरिक भी घायल हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एमएस रंधावा ने बताया कि अभी तक 11 एफआईआर दर्ज की गई है, कई को हिरासत में भी लिया गया है।

दिल्ली हिंसा में मृतकों की संख्या 10 हुई हिंसा से सबसे ज्यादा प्रभावित उत्तर पूर्व दिल्ली में जरूरत के मुताबिक पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। इस बात की जानकारी दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एमएस रंधावा ने दिया है। उन्होंने बताया कि कुछ जगह पर हिंसक घटनाएं हुई हैं। पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। पुलिसबल की कमी की बात सही नहीं है। हमने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), आरएएफ और एसएसबी को भी तैनात किया है। पुलिस टीम की ओर से लगातार पेट्रोलिंग की जा रही है। उच्च अधिकारी लगातार निगरानी कर रहे हैं।

56 पुलिसकर्मी घायल, 136 नागरिकों को भी चोट: दिल्ली पुलिस दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एमएस रंधावा ने जनता से अपील करते हुए कहा कि अफवाहों पर ध्यान नहीं दें। उन्होंने कहा कि कुछ इलाकों में आज (मंगलवार) को भी कई क्षेत्रों में हिंसक घटनाएं हुई हैं, जिनसे निपटने की कोशिश की गई है। ड्रोन के जरिए भी निगरानी की जा रही है। हिंसा ग्रस्त इलाकों में लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा रही है। उन्होंने आगे कहा कि असामाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।