Friday, October 18, 2019 11:25 AM

दिल्ली-लेह रूट पर नहीं दौड़ेगी एचआरटीसी

खराब मौसम व यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रख निगम प्रबंधन ने लिया फैसला, केलांग तक ही उपलब्ध हो पाएगी सेवा

केलांग -एचआरटीसी के लिए फायदेमंद रूटों में शामिल दिल्ली-लेह रूट पर निगम प्रबंधन ने बस सेवा को बंद कर दिया है। खराब मौसम व बर्फबारी के चेतावनी को ध्यान में रखते ही निगम प्रबंधन ने यह निर्णय लिया है। उक्त रूट पर एचआरटीसी के केलांग डिपो की बस को दौड़ाया जाता था। ऐसे में अब यात्रियों को निगम की उक्त बस सेवा महज केलांग तक ही उपलब्ध हो पाएगी। एचआरटीसी के केलांग डिपो के आरएम मंगलचंद मनेपा का कहना है कि 15 सितंबर से निगम प्रबंधन ने दिल्ली-लेह रूट पर बस सेवा को बंद कर दिया है। उन्होंने बताया कि दिल्ली-लेह रूट पर चलने वाली निगम की बस जहां यह सफर 32 घंटों पर तय करती थी, वहीं अब इस बस सेवा को अगले वर्ष ही गर्मियों में शुरू किया जाएगा। उधर, एचपीटीडीसी द्वारा भी मनाली-लेह रूट पर चलने वाली लग्जरी बस सेवा को भी 15 सितंबर से ही बंद किया गया है। ऐसे में सैलानियों को अब लेह जाने के लिए निजी वाहनों व टैक्सी सेवा का सहारा लेना पड़ेगा। अधिकारिक तौर पर उक्त रूट पर सरकारी बसों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है। उल्लेखनीय है कि हिमाचल पथ परिवहन निगम के सबसे लंबे रूट करीब 1100 किलो मीटर दिल्ली-लेह मार्ग पर चलने वाली बस सेवा को सोमवार से निगम प्रबंध ने बंद कर दिया है। करीब साढे़ तीन माह तक सेवा देने के बाद एचआरटीसी ने 15 सितंबर के बाद से अधिकारिक तौर पर इसे बंद कर दिया है। मौसम के मिजाज और बर्फबारी की आशंका को देखते हुए यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रख बस सेवा को बंद करने का निर्णय निगम प्रबंधन ने लिया है। उधर, पर्यटन निगम मनाली के सहायक महाप्रबंधक अनिल तनेजा ने बताया मौसम को देखते हुए निगम ने भी 15 सितंबर से अपनी बस सेवा बंद कर दी है।

20 जून को एसडीएम केलांग ने दिखाई थी हरी झंडी

 20 जून को एसडीएम केलांग अमर नेगी ने जहां उक्त रूट पर बस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था, वहीं अब यह बस सेवा जिला मुख्यालय केलांग से आगे नहीं जाएगी। दिल्ली से लेह रूट पर चलने वाली निगम की उक्त बस सेवा देश में सबसे लंबे रूटों में शामिल है। इसमें निगम के छह चालक और परिचालक सेवा देते हैं। बारलाचा तथा तंगलंगला दर्रा से गुजरने वाला यह रूट 18 हजार फीट की ऊंचाई से होकर गुजरता है।