Wednesday, September 30, 2020 02:32 PM

दुकानें तो खुलीं…व्यापार मंदा…आशा पर टिकी उम्मीद

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड-19 के कारण लगे लॉकडाउन से बाजारों में दुकानदारों का धंधा मंदा पड़ गया है। दुकानों को खोलने के इजाजत मिलने के बाद भी बाजार सुना पड़ा है। बसें न चलने के कारण बाजारों में खरीददार कम की पहुंच रहे हैं। लिहाजा दुकानदारों का काम 20 प्रतिशत ही सिमट तक रह गया है। दुकानदार हालत सामान्य होने तथा उनका कामकाज दोबारा पहले की तरह चलने की उम्मीद से आश लगाए बैठे हैं। ग्राहक जरूरी वस्तुओं के अलावा अन्य कोई भी सामान नहीं खरीद रहे हैं। वहीं, जब दिव्य हिमाचल ने लिया तो उन्होंने बेवाक होकर यूं अपनी राय रखी….।

चंबा

लोग खरीददारी को कम ही आ रहे हैं

जसबीर नागपाल का कहना है कि कारोबार फिलहाल मंदी की चपेट में ही है। परिवहन सुविधा न होने से ग्रामीण क्षेत्रों से लोग खरीददारी के लिए नहीं आ पा रहे हैं। ऐसे में डिमांड का तो सवाल नहीं उठता।

दुकानों में कारोबार हुआ ठप

दृष्टि इंफोटेक के मालिक कपिल भारद्वाज का कहना है कि दुकान पर काम बिलकुल ठप होकर रह गया है। काम धंधा मोबाइल काल पर आ टिका है। वहीं, वाहन न चलेन पर आवाजाही ठप होने से ग्राहक पर दुकानदार नहीं पहुंच रहे है।

कमाई पर पड़ा खासा असर

टी संचालक अमरजीत सिंह का कहना है कि लॉकडाउन के बाद से काम बिलकुल ठप पड़ा हुआ है। दुकान में सीटिंग अरेंजमेंट पर रोक होने के चलते डिलीवरी व्यवस्था होने के साथ कमाई में खासा असर है।

डिमांड के बाद भी नहीं आ रहा सामान

उपेंद्र शर्मा का कहना है कि दुकान खुलने के बाद भी धंधा ठप पड़ा हुआ है। उन्होंने बताया कि ग्राहक के दर्शन कभी कभार हो पा रहे हैं। उन्होंने बताया कि पीछे से सामान भी डिमांड के मुताबिक नहीं आ रहा है।

रोजमर्रा की वस्तुएं लेने ही पहुंच रहे ग्राहक

मल्टीपर्पज स्टोर संचालक दिपांकर शर्मा का कहना है कि लॉकडाउन के बाद बाजार खुलने के बाद बेहतर कारोबार की उम्मीद फिलहाल पूरी होती नहीं दिख रही है। दुकान पर रोजमर्रा की जरूरत की वस्तुएं खरीदने के लिए ही ग्राहक पहुंच रहे हैं। दिपांकर शर्मा का कहना है कि लॉकडाउन की वजह से सामाजिक समारोहों पर रोक के चलते भी लोग खरीददारी नहीं कर रहे हैं।

The post दुकानें तो खुलीं…व्यापार मंदा… आशा पर टिकी उम्मीद appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.