Monday, April 06, 2020 05:40 PM

दुबई से लौटे युवक के कारण ब्यौण में खौफ

ठियोग-तहसील कोटखाई व ठियोग की सीमा पर लगती देवगढ़ पंचायत के ब्यौण गांव में दो दिन पहले दुबई से लौटे एक युवक के कारण इलाके में लोगों में भय का माहौल पैदा हो गया है। हालांकि यह युवक पूरी तरह से स्वस्थ बताया जा रहा है। स्थानीय आशा वर्कर प्रतिदिन उक्त युवक के स्वास्थ्य को लेकर युवक के संपर्क में है। किसी भी तरह के सिम्टम्स पर पाए जाने पर इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन के अलावा डाक्टरों को दी जाएगी। इस बारे में एसडीएम की ठियोग केके शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि ब्यौण गांव का रहने वाला 30 वर्षीय युवक रितेश दो-तीन दिन पहले दुबई से वापस घर लौटा है। कोरोना वायरस को लेकर उसने पहले ही आशा वर्कर को सूचित कर दिया था और इस बारे में इस बारे में स्थानीय पंचायत की आशा वर्कर उक्त युवक के स्वास्थ्य कि प्रतिदिन रिपोर्ट तैयार कर रही है, लेकिन अभी तक युवक पूरी तरह से स्वस्थ है। कोरोना वायरस के शुरुआती सिम्पटम्स किसी भी तरह के नहीं दिखाई दे रहे हैं। एसडीएम केके शर्मा ने बताया कि उन्होंने खुद इस बारे में स्थानीय पंचायत को भी को भी अलर्ट रहने को कहा गया है। किसी भी तरह के शुरुआती लक्षण यदि पाए जाते हैं, तो इसकी सूचना तुरंत प्रशासन को देने को कहा गया है। इसके अलावा मंगलवार को प्रदेश सरकार द्वारा लॉकडाउन के बावजूद भी लोगों ने बाजार आना बंद नहीं किया और बाजार में चहल कदमी दिनभर दिखाई दी। एसडीएम ठियोग केके शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि मंगलवार को हालांकि पुलिस की मदद से वाहनों को आने जाने नहीं दिया गया, लेकिन बावजूद इसके कुछ लोग फिर भी बाजार में घूमते हुए दिखाई दिए। इस बारे में प्रशासन द्वारा सख्ती किए जाने के बावजूद मंगलवार को लोगों का आना जाना नहीं रुका। उन्होंने बताया कि हालांकि ठियोग छैला सेंज में मार्किट को बंद रखा गया था। वही दुकानें खुली थी, जिनको खोलने के सरकार ने आदेश किए है। उन्होंने कहा कि मंगलवार शाम पांच बजे के बाद सरकार ने पूरे प्रदेश में कर्फ्यू लगा दिया है। इसके बाद अब कोई भी व्यक्ति घर से बाहर नहीं निकल सकता। यदि कोई व्यक्ति मार्किट में देखा जाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। कोरोना वायरस को लेकर जहां शहरों में लोगों से भीड़ को इकट्ठा न किए जाने की अपील की जा रही है। वहीं ग्रामीण स्तर भी पूरी तरह से एहतियात बरतने को कहा जा रहा है।