Tuesday, March 31, 2020 01:52 PM

दूध नहीं मिला…मिल्कफेड है न

लॉकडाउन के दौरान मिल्क फेडरेशन लोगों तक पहुंचाएगी सुरक्षित दूध, चैयरमैन ने किया खुलासा

नाहन- हिमाचल प्रदेश मिल्क फेडरेशन के चेयरमैन निहाल चंद शर्मा ने कहा कि कोरोना वायरस के खतरे के कारण पैदा हुई स्थिति को देखते हुए फेडरेशन द्वारा प्रदेश में दूध की सप्लाई में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। यदि किसी क्षेत्र में दूध तथा दूध से निर्मित उत्पाद उपलब्ध नहीं हो रहे हैं तो उस क्षेत्र के खुदरा व्यापारी दिए गए नबरों पर अपनी मांग एक दिन पहले रख सकते हैं। निहाल चंद शर्मा ने प्रदेश में सभी प्लांटों की समीक्षा की और बताया कि सिरमौर में खुदरा व्यापारी नागेश चंद्र गुप्ता को 9418015200 व 9418023200 पर फोन कर अपनी मांग एक दिन पहले रख सकते हैं। निहाल चंद शर्मा ने निर्देश दिए कि मिल्क फेडरेशन के प्लांटों में प्रवेश करने से पहले सभी कर्मचारियों और अधिकारियों को अपने हाथों को सेनेटाइज करना होगा और बाहर से आने पर अपने कपड़ों को भी बदलना होगा। मुंह को मास्क से ढकने और हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोने और सेनेटाइज करने के बाद ही वे मशीनों और अन्य साजो-सामान का इस्तेमाल कर पाएंगे। इसके अलावा जिन वाहनों में दूध और अन्य उत्पादों की ढुलाई की जाएगी उन्हें भी सेनेटाइज किया जाएगा और चालकों को भी कोरोना वायरस से लड़ने के लिए सुझाए गए जरूरी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा।  निहाल चंद शर्मा ने कहा कि दूध आवश्यक वस्तुओं में है और घर में इसके बिना काम नहीं चलता इसलिए मिल्क फेडरेशन इसकी सुचारू आपूर्ति करने के लिए प्रतिबद्ध है। मिल्क फेडरेशन हाइजीन का पूरा ध्यान रख रहा है ताकि जब यह दूध आम लोगों तक पहुंचे, पूरी तरह सुरक्षित हो।