Monday, April 06, 2020 04:36 PM

देवीनगर के लोगों को कब मिलेगा जाम से छुटकारा

पांवटा साहिब-जब से रामपुरघाट और नवादा क्षेत्र में क्रशर स्थापित हुए हैं तभी से देवीनगर इलाके मंे रहने वाले लोगों का जीना हराम हो चुका है। कभी रात-दिन चलने वाले बड़े और ओवरलोड वाहनों का शोर तो कभी तेज रफ्तारी के कारण हिट एंड रन के मामले। आए दिन जनता परेशान रहती है लेकिन इस समस्या के दूर करने में प्रशासन असफल रहा है। अब तो गत दिनों बड़े टरकों के लंबे जाम में करीब आधा घंटा पेशेंट लेकर जा रही एक एंबुलेंस भी फंसी रही। जिससे मरीज की जान पर बन आई थी। फिर भी प्रशासन इस गंभीर समस्या का विकल्प नहीं ढूंढ पाया है। जानकारी के मुताबिक विश्वकर्मा से देवीनगर रोड़ पहले ही संकरा है। दोनों ओर रिहायशी मकान है और क्षेत्र में कई निजी और सरकारी स्कूलों के अलावा आईआईएम और डेंटल कालेज, पूर्ण अस्पताल आदि इसी रोड पर पड़ते हैं। इसी रोड़ पर रामपुरघाट और नवादा के क्रशर से आने वाले बड़े-बड़े वाहन सड़क को अकसर जाम कर देते हैं। हालांकि दिन के समय प्रशसन ने बड़े वाहनों के आवागमन के लिए समय निर्धारित किया है लेकिन आए दिन प्रशासन के इस आदेश की भी क्रशर के वाहन धज्जियां उड़ाते देखे जा सकते हैं। यही नहीं जब सड़क पर बड़े वाहनों के आवागमन का समय खुलता है तो दोनों और से संकरी सड़क पर सैकड़ों की तादाद में क्रशर ढोने वाले वाहन एक साथ निकलते है जिससे सड़क अकसर जाम हो जाती है। हालांकि विधायक सुखराम चौधरी ने इस समस्या को देखते हुए भंगानी से यमुना नदी पर उत्तराखंड के लिए एक पुल बनाने का प्रोपोजल सरकार के समक्ष रखा जिसका शिलान्यास गत वर्ष उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत कर चुके हैं।  वहीं पांवटा साहिब के विधायक सुखराम चौधरी का कहना है कि भविष्य मंे बड़े वाहनों को विकल्प के तौर पर रामपुरघाट से उत्तराखंड को जोड़ने के लिए एक पुल का निर्माण करवाया जाएगा ताकि बड़े वाहन वहां से गुजर सकें।