Tuesday, March 31, 2020 06:57 PM

देव ध्वनियों से गूंजी छोटी काशी

महाशिवरात्रि के लिए पहुंचे देवी-देवता, खूब झूमे देवलू

मंडी — गुरुवार को मां बगलामुखी की पालकी उठाए हाई कोर्ट के जस्टिस सुरेश्वर ठाकुर

मंडी - छोटी काशी देव ध्वनियों से गूंजना शुरू हो गई है। बड़ादेव कमरूनाग के साथ ही छह अन्य देवी-देवता गुरुवार को मंडी पहुंच गए। इन देवी-देवताओं के साथ सैकड़ों देवलु भी मंडी पहुंचे। कई देवताओं ने मंडी पहुंच कर पहले पड्डल मैदान में मिलन किया, इसके बाद देवलु देव ध्वनियों पर झूमते राजमाधव के दरबार पहुंचे। गुरुवार को देव बूढ़ा बिंगल, देव शुकदेव ऋ षि थट्टा, देव झाथीवीर, देव टुंडी वीर, भगवती बगलामुखी और बूढ़ी भैरवा शिवरात्रि के लिए पहुंच गए हैं, जिनका मेला कमेटी की ओर से विधिवत स्वागत किया गया। बड़ादेव व अन्य देवी-देवताओं के आने से मंडी शहर ढोल-नगाड़ों की गूंज से गुंजायमान हो उठा। देवी-देवताओं के रथ एक साल बाद मंडी शहर में एक-दूसरे से मिले। देवताओं का यह मिलन भावविभोर करने वाला था। सभी देवताओं ने इसके बाद राजमाधव मंदिर में हाजिरी भरी, जिनका स्वागत उपायुक्त मंडी ऋगदेव ठाकुर ने किया। इसके बाद देवी-देवता राजा के बेडे़ में गए, जहां पर राजा ने सबका स्वागत किया। शुक्रवार को शिवरात्रि के दिन मेला कमेटी के अध्यक्ष माधोराय, टारना व बाबा भूतनाथ के मंदिरों में पूजा करेंगे। वहीं पर माधोराय मंदिर के प्रांगण में हवन के साथ ही शिवरात्रि के कारज शुरू हो जाएंगे। शुक्रवार को छोटी जलेब भी निकाली जाएगी।

हाई कोर्ट के जस्टिस सुरेश्वर ठाकुर ने उठाई देव पालकी

मंडी - हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश सुरेश्वर ठाकुर ने अपने परिवार सहित गुरुवार को राजमाधव मंदिर में माथा टेका। उन्होेंने बड़ा देवकमरूनाग का भी राजमाधव मंदिर में स्वागत किया और उनका आशीर्वाद लिया। बड़ा देव कमरूनाग के बाद पहुंचे अन्य देवी-देवताओं का उपायुक्त के कार्यालय के गेट के समीप स्वागत किया और कई देवी-देवताओं की पालकी व रथ को उन्होंने उठाकर राजमाधव के दर तक भी पहुंचाया। न्यायधीश सुरेश्वर ठाकुर ने मां बगलामुखी की पालकी और सुखदेव ऋषि के रथ को उठाया। इस दौरान न्यायाधीश सुरेश्वर ठाकुर कुछ देर के लिए भावुक भी हो उठे। इस अवसर पर उनके साथ हिमाचल प्रदेश हाई कोर्ट के रजिस्टार जनरल डाक्टर बलदेव, सेशन जज मंडी आरके शर्मा और एडशिनल डिस्टीक एंड सेशन जज मंडी अर्पणा शर्मा भी उपस्थित रहे।