Wednesday, August 21, 2019 04:37 AM

देव बिट्ठू नारायण मेले में गूंजा लोक गीत लामण

मंडी -लोक संस्कृति के संरक्षण एवं संवर्द्धन की दिशा में अग्रसर भाषा एवं संस्कृति विभाग की ओर से मंडी जिला के सराज क्षेत्र के थाची में देव बिट्ठू नारायण के मेले के दौरान महिलाओं की सराजी नाटी और लोक गीत लामण का प्रदर्शन किया गया। इस अवसर पर जिला भाषा अधिकारी रेवती सैणी ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। वहीं पर देव बिट्ठू नारायण के कारदार पं. ओत राम शर्मा, हिमाचल पर्यटन निगम के पूर्व जीएम देवराज शर्मा, मशहूर छायाकार बीरबल शर्मा, साहित्यकार मुरारी शर्मा, प्रेस क्लब मंडी के महासचिव पुरूषोतम शर्मा और लोकगायिका कृष्णा ठाकुर भी विशेष रूप से उपस्थित रहे। इस अवसर पर रेवती सैणी ने कहा कि लोकनृत्य और लोकगीत हमारे जीवन के उल्लास एवं परंपराओं से जुड़े हैं। हर क्षेत्र का अलग लोकनृत्य और लोकगीत हैं। जो समय के बदलाव के साथ अपना वजूद खो रहे हैं। लेकिन पहाड़ों के अंचल में होने वाले मेलों में देव संस्कृति के साथ-साथ लोक संस्कृति ाासकर नृत्य और गीतों का संरक्षण और संवरधन बदस्तूर हो रहा है। जिसमें स्थानीय लोगों का विशेष योगदान है जो पीढ़ी दर पीढ़ी इनका हस्तांतरण कर रहे हैं। इस अवसर पर स्थानीय महिला मंडलों की ओर से सराजी नाटी और लोक गीत लामण का प्रदर्शन किया गया। महिला मंडल की महिलाओं ने अपने परंपरागत परिधान में सराजी नाटी का प्रदर्शन किया। वहीं पर लोक गायकों की ओर से लामण प्रस्तुत की गई।