Saturday, January 25, 2020 11:39 PM

दोमंजिला मकान राख, दो परिवारों से छिना आशियाना

नेरी कोटली के डरेना में बेकाबू लपटों ने स्वाह किया सारा सामान, प्रशासन ने दी फौरी राहत

राजगढ़ - उपमंडल राजगढ़ की ग्राम पंचायत नेरी कोटली के डरेना गांव में दो मंजिला मकान में आग लेने से दो भाइयों के परिवार बेघर हो गए। डरेना गांव के एक ही परिवार के दो व्यक्तियों राम प्रकाश व जय प्रकाश अपने परिवारों के साथ इस दो मंजिला मकान में रहते थे और बुधवार सुबह लगभग साढ़े 10 बजे मकान में आग लग गई और देखते ही देखते दोनों परिवारों का सारा सामान खाक हो गया। राम प्रकाश ने बताया कि वह उस समय लकड़ी लेने गया हुआ था और उसकी माता व पत्नी रसोई में नाश्ता कर रही थी। गांव के किसी व्यक्ति ने मकान के पिछली हिस्से में आग देखकर परिजनों व गांव वालों को सूचित किया, लेकिन मकान में अधिक लकड़ी होने के कारण आग इतनी तेजी से फैली कि सिलेंडर को छोड़ कुछ भी नहीं बचाया जा सका। जय प्रकाश के अनुसार मकान में टीडी की लकड़ी जिसकी कीमत लाखों में थी के अतिरिक्त समारोह आदि के लिए बड़े-बड़े बरतन, टीवी, बिस्तर सहित सारा सामान आगजनी की घटना में राख हो गया। इस मकान में दो परिवारों के कुल नौ लोग जिसमें राम प्रकाश, उसकी माता, पत्नी व एक बच्चा तथा जय प्रकाश, उसकी पत्नी व तीन बच्चे रहते थे और सर्दी के मौसम में दोनों भाई परिवार सहित बेघर हो गए। जय प्रकाश ने बताया कि वह फिलहाल गांव के एक पुराने खाली पड़े मकान में रहेंगे। आगजनी की घटना की पुष्टि करते हुए तहसीलदार राजगढ़ विवेक नेगी ने बताया कि वह स्वयं मौके पर पहुंचे हैं और प्रशासन की ओर से दोनों भाइयों को 15-15 हजार रुपए की फौरी सहायता प्रदान की है। दोनों परिवारों को प्रशासन की ओर से टैंट भी मुहैया करवाया जाएगा और नुकसान का आकलन करके उचित सहायता प्रदान की जाएगी।