Tuesday, November 19, 2019 03:10 AM

दोहा में निशाना लगाएंगी रोहड़ू की जीना

 14वीं एशियन शूटिंग चैंपियनशिप के लिए हुआ चयन

रोहडू -14वीं एशियन शूटिंग चैंपियनशिप का आयोजन तीन से 14 नवंबर तक यूनाइटेड अरब अमीरात के दोहा कतर में आयोजित होने जा रही है। इस प्रतियोगिता में रोहडू की रहने वाली व अराधना शूटिंग क्लब रोहडू की छात्रा जीना खिट्टा का चयन हुआ है। वह इस प्रतियोगिता में पहली बार देश का प्रतिनिधत्व करेगी। इस चैंपियनशिप में एशिया के 25 देशों के खिलाड़ी भाग लेंगे। जीना खिट्टा जनवरी, 2018 से भारतीय टीम का हिस्सा रही है। इससे पहले जीना तीन अंतराष्ट्रीय मेडल भी हासिल कर चुकी है। वर्तमान में युवा वर्ग की श्रेणी में देश में प्रथम स्थान पर विराजमान है। शूटिंग में जहां सीनियर वर्ग में राजस्थान की अपूर्वी चंदेला और जूनियर वर्ग में गुजरात की इल्ला बेलरिवान को स्थान मिला है, वहीं युवा वर्ग में हिमाचल प्रदेश की जीना खिट्टा देश की टीम को इस चैंपियनशिप में नेतृत्व करेगी। जीना ने अपना शूटिंग कैरियर 2015 में शुरू किया है। यहां उनके गुरू वीरेंद्र सिंह बांशटू ने उन्हें अपने अराधना शूटिंग क्लब में प्रशिक्षण देना शुरू किया। जीना खिट्टा ने पहला नेशनल दिसंबर, 2015 में खेला। 2017 में उनका चयन टीम इंडिया स्क्वायड में हुआ। वहीं, 2017 में साल भर स्क्वायड में खेलती रही और 2018 में जीना का चयन टीम इंडिया में हुआ। तब से लेकर आज तक जीना ने आस्ट्रेलिया के सिडनी में स्वर्ण, जर्मनी में कांस्य और चैक रिपब्लिक में कांस्य पदक हासिल कर चुकी है। हिमाचल प्रदेश स्टेट राइफल एसोसिएशन के महासचिव ईश्वर रोहाल और एसोसिएशन के सभी पदाधिकारियों को नेशनल राइफल एसोसिएशन ऑफ इंडिया को जीना खिट्टा से इस चैंपियनशिप में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। जीना खिट्टा के पिता पृथ्वी राज खिट्टा ने बताया कि उन्हें अपनी बेटी की इन उपलब्धियों पर गर्व है और उम्मीद जतायी है कि वह आने वाली प्रतियोगिताओं में देश का नाम भी रोशन करेगी।

मोनिका का नेशनल शतरंज स्पर्धा को सिलेक्शन

रोहडू - जिला शिमला के शिक्षा खंड जुब्बल के राजकीय माध्यमिक पाठशाला चंद्रपुर की छात्रा कुमारी मोनिका का चयन राष्ट्रीय शतरंज प्रतियोगिता के लिए हुआ है। चंद्रपुर स्कूल प्रभारी मंजूबाला ने बताया कि मोनिका का चयन दादरा व नागर हवेली सिलवासा में छह से  आठ नवंबर तक आयोजित होने जा रही राष्ट्रीय स्तरीय शतरंज प्रतियोगिता अंडर-14 छात्रा वर्ग मे हुआ है। उन्होंने बताया है कि स्कूल के शारीरिक शिक्षक सुरेश कुमार की कड़ी मेहनत व स्कूल के सभी शिक्षकों के सहयोग व मार्गदर्शन से यह संभव हो पाया है। मंजु बाला ने बताया कि छोटे से स्कूल से संबंध रखने वाली छात्रा का चयन होना स्कूल क्षेत्र व हिमाचल के लिए भी गर्व का विषय है।