Saturday, September 21, 2019 04:40 PM

दो करोड़ 20 लाख में ठेके नीलाम

आबकारी एवं कराधान विभाग की ओर से रक्कड़ कालोनी-झलेड़ा-सनोली-उदयपुर में नीलामी पूरी ऊना -आबकारी एवं कराधान विभाग की ओर से जिला के तहत रक्कड़ कालोनी, झलेड़ा, सनोली, उदयपुर के शराब के ठेकों की नीलामी प्रक्रिया पूरी कर ली है। आबकारी एवं कराधान विभाग को इस प्रक्रिया के तहत दो करोड़ 20 लाख 23 हजार 998 रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ है। इन ठेकेदारों को यह शराब के ठेके आबंटित किए गए हैं उन्हें 11 सितंबर से 31 मार्च 2020 तक अलाट किया गया है। बुधवार को पूर्व निर्धारित प्रक्रिया के तहत नीलामी प्रक्रिया शुरू हुई। आबकारी एवं कराधान विभाग के कार्यालय में शराब के ठेकों की काफी भीड़ जुटी हुई थी। विभाग की ओर तमाम औपचारिकताएं पूरी करने के बाद इन शराब के ठेकों की नीलामी प्रक्रिया शुरू की गई। प्रक्रिया के तहत रक्कड़ कालोनी क्के शराब के ठेके के लिए विभाग को 55 आवेदन प्राप्त हुए। इस में से सावित्री देवी के नाम पर यह ठेका आबंटित किया गया। इससे विभाग को 53 लाख 36 हजार 634 रुपए का राजस्व मिला। इसके अलावा झलेड़ा के शराब के ठेके के लिए आठ आवेदन मिले। इस में से नरोत्तम सिंह को यह ठेका आबंटित किया गया। इससे 37 लाख तीन हजार 917 रुपए की राशी विभाग को मिली। इसके अलावा सनोली शराब के ठेके लिए विभाग को 16 आवेदन मिले। इन आवेदनों में से बाबू राम को यह शराब का ठेका आबंटित किया गया। 82 लाख पांच हजार 154 रुपए की राशी विभाग को मिली। इसके अलावा उदयपुर शराब के ठेके लिए छह आवेदन विभाग को प्राप्त हुए। इसमें से अंजना देवी को शराब का ठेका आबंटित किया गया। विभाग को 45 लाख 78 हजार 292 रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ। उल्लेखनीय है कि आबकारी एवं कराधान विभाग में जाली ई-चालान का मामला उजागर हुआ था। इसके चलते विभाग द्वारा संबंधित शराब के ठेकों की नीलामी प्रक्रिया दोबारा शुरू की थी। अब आबकारी एवं कराधान विभाग की ओर से चार शराब के ठेकों की नीलामी प्रक्रिया पूरी कर ली है। इसके चलते विभाग को राजस्व भी प्राप्त हुआ है। संबंधित शराब के ठेकेदारों को अब 31 मार्च 2020 तक इन शराब के ठेकों को आबंटित किया गया है।  उधर,इस बारे में आबकारी एवं कराधान विभाग ऊना में उपायुक्त स्टेट टेक्सेशन एंड एक्साइज प्रदीप शर्मा ने बताया कि विभाग की ओर से चार शराब के ठेकों की नीलामी प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। इस प्रक्रिया के तहत दो करोड़ 20 लाख 23 हजार 998 रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ है।