Monday, November 18, 2019 05:05 AM

द्रम्मण-सिहुंता सड़क की हालत में हो सुधार

सिहुंता—पेंशनर वेलफेयर एसोसिएशन की सिहंुता खंड इकाई की मासिक बैठक का आयोजन बुधवार को पीएचसी समोट के परिसर में किया गया। बैठक की अध्यक्षता खंड इकाई के प्रधान बीएम शेख ने की। बैठक में पेंशनरों के अलावा जनहित से जुड़ी विभिन्न मांगों व समस्याओं पर चर्चा कर सरकार व उपमंडलीय प्रशासन से सकारात्मक कार्रवाई अमल में लाकर राहत प्रदान करने का आग्रह किया। बैठक में वक्ताओं ने द्रम्मण-सिहंुता मुख्य मार्ग पर केबल नेटवर्क की लाइन बिछाने की खुदाई के चलते जगह-जगह गड्ढे पड़ गए हैं, जो कि कभी भी हादसे का कारण बन सकते हैं। इसके साथ पानी की निकासी हेतु नालियां भी मलबे से भर गई हंै। बारिश में निकासी नालियों के बंद होने से पानी सड़क पर बह रहा है। वक्ताओं ने लोक निर्माण विभाग सिहंुता से जल्द समस्या के हल हेतु प्रभावी कदम उठाने की मांग है। वक्ताओं ने बसों में ओवरलोडिंग पर रोक लगाने के सरकारी फैसले का स्वागत किया। मगर साथ ही ओवरलोडिंग पर रोक के कारण लोगों को पेश आ रही समस्याओं के हल हेतु विभिन्न रूटों पर अतिरिक्त बस सेवाएं आरंभ करने की मांग भी उठाई। बैठक में वक्ताओं ने 65 से 75 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके पेंशनरों की पेंशन में पांच से पंद्रह फीसदी की बढ़ोतरी कर मूल पेंशन में समायोजित करने की मांग उठाई। वक्ताओं ने पेंशनरों के लंबित मेडिकल बिलों के भुगतान हेतु जल्द बजट का प्रावधान भी मांगा। उन्होंने मेडिकल भत्ते को चार सौ रुपए मासिक से बढ़ाकर एक हजार रुपए करने की मांग भी सरकार से की।  बैठक में खंड इकाई के उपप्रधान चैन सिंह ठाकुर, महासचिव आंेकार सिंह चौहान, कोषाध्यक्ष करनैल सिंह राणा, प्रीतम चंद, कमल कुमार, विचित्र सिंह व रांझो राम सहित 35 पेंशनरों ने भाग लिया।